राज्यउत्तर प्रदेश / यूपी

विद्युत संयोजन निर्गत किये जाने हेतु चल रहे अभियान को और प्रभावी बनायें : एम0 देवराज

प्रदेश की विद्युत व्यवस्था को और बेहतर बनाने हेतु यहां रहने वाले प्रत्येक परिवार को वैध कनेक्शन निर्गत करने के लिये चलाये जा रहे अभियान को और प्रभावी बनाया जाये। यह निर्देश प्रदेश के वितरण निगमों के प्रबन्ध निदेशकों को उ0प्र0 पावर कारपोरेशन अध्यक्ष एम0 देवराज ने समीक्षा में दिये। उन्होंने कहा की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं उर्जा मंत्री की मंशा प्रदेश के नागरिको को बेहतर विद्युत व्यवस्था के साथ 24 घण्टे विद्युत आपूर्ति की हैं, जिसके लिए सभी अधिकारियों/कर्मचारियों को पूर्ण ईमानदारी के साथ कमर कस कर कार्य करना होगा तथा विभागीय योजनाओं को समय से धारातल पर उतारना होगा।

उन्होंने कहां है कि इस अभियान में इन्टर कालेज के छात्रों, आई0टी0आई0, पालीटेक्निक तथा उच्च शिक्षण संस्थानों में अध्ययन करने वाले छात्रों, ग्रामीण सहायता समूूहों तथा विद्युत सखियों आदि के माध्यम से प्रत्येक घर का सर्वे करायें। सर्वे के उपरान्त प्रत्येक नये संयोजन हेतु 100 रूपये इन्सेन्टिव के रूप में छात्रों, स्वयं सहायता समूहों एवं विद्युत सखियों को प्रोत्साहन राशि के रूप में भुगतान करें।

कारपोरेशन अध्यक्ष ने बताया है कि प्रदेश की विद्युत यवस्था को बेहतर करने के लिये लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। इसी क्रम में यह आवश्यक है कि प्रदेश के प्रत्येक परिवार के पास वैध विद्युत कनेक्शन हो जाये। इससे विद्युत चोरी में कमी आयेगी तथा राजस्व में वृद्धि होगी।

अभी उ0प्र0 पावर कारपोरेशन के अन्तर्गत पॉचों वितरण निगमों में कुल 3.27 करोड़ विद्युत उपभोक्ता हैं इनमें से घरेलू प्रयोग हेतु कुल 2.88 करोड़ हैं। उ0प्र0 की जनसंख्या को देखते हुये यह स्पष्ट है कि घरेलू विद्युत संयोजनों की संख्या कुल परिवारों की संख्या के सापेक्ष कम है। अतः पावर कारपोरेशन की आर्थिक स्थिति बेहतर करने एवं विद्युत व्यवस्था सुधारने के लिये यह आवश्यक है कि ऐसे समस्त परिवार जो वर्तमान में विद्युत का प्रयोग कर रहे हैं और उनके द्वारा संयोजन नहीं लिया गया है उनको संयोजन निर्गत कर दिया जाये। इसके लिये जरूरी है कि प्रत्येक ऐसे परिवार का चिन्हाकन किया जाये जिनके निवास पर वर्तमान में कोई भी वैध, विद्युत संयोजन नहीं है।

ऐसे उपभोक्ता जिनके पूर्व में चोरी के प्रकरण लम्बित है अथवा एफ0आई0आर0 दर्ज है उनसे सादे कागज पर एक घोषाणा पत्र लेकर उनको भी नये कनेक्शन स्वीकृत कर दिये जाये। मीटर की कहीं कमी न रहे अधिकारी यह सुनिश्चित करें।

अध्यक्ष ने प्रदेश की जनता से आग्रह किया है कि वह इस अभियान का लाभ उठाकर वैध कनेक्शन प्राप्त कर ले। उन्होंने अधिकारियों को भी निर्देशित किया है कि इसका व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये तथा उपभोक्ताओं से सम्पर्क कर ज्यादा से ज्यादा कनेक्शन स्वीकृत किये जाये। उपभोक्ताओं को सहूलियत के साथ कनेक्शन स्वीकृत कर दिये जायें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button