पुलिस जांच में नाबालिग से दुष्कर्म का मामला सामने आया, बापूनगर में मिला भ्रूण

बापूनगर इलाके में 6 अगस्त को काकड़िया अस्पताल के पास एक भ्रूण मिला जिसकी सूचना पुलिस को देने के बाद पुलिस ने भ्रूण को छोड़ने वाले माता-पिता की जांच शुरू कर दी। जांच करते-करते पुलिस भ्रूण छोड़ने वाली युवती नाबालिग तक पहुंच गई। हालांकि, जब पुलिस ने नाबालिग से पूछताछ की तो चौंकाने वाली बात सामने आई। सिविल अस्पताल में वार्ड बॉय के पद पर कार्यरत रहते हुए नराधम नाम के युवक पर नाबालिग से दुष्कर्म करने का मामला उजागर हुआ था।

नवंबर 2022 में सगीरा की दादी का सिविल में आंख का ऑपरेशन हुआ था । उस समय युवती उनके साथ सोला सिविल में तीन दिन तक रुकी थी। इसी दौरान वहां हाउसकीपिंग का काम करने वाला वार्ड ब्वॉय उससे बार-बार बात करने की कोशिश करता था। लेकिन युवती की दादी के साथ होने के कारण वह बात नहीं कर सका. हालांकि, उसने नाबालिग का मोबाइल नंबर ले लिया और उसे अपना नंबर दे दिया बाद में आरोपी ने मोबाइल मैसेज के जरिए युवती से बातचीत की अगले दिन रात करीब दो बजे जब सभी लोग जनरल वार्ड में सो रहे थे, तभी आरोपी युवती के पास आया और उससे बोलै मुझे तुमसे काम है, उसने कहा मेरे साथ चलो और युवती को जनरल वार्ड के बगल वाले कमरे में ले गया। जहां वह युवती के साथ एक रात बिताने की इजाजत मांगी,और उसने युवती को झूठा दिलासा दिया की हम दोनों शादी कर लेते हैं। और हम भाग जायेंगे. इतना कह कर कमरे का दरवाज़ा बंद कर दिया और नाबालिग के साथ जबरन शारीरिक संबंध बनाकर वहां से फरार हो गया.

हालांकि, चार महीने बाद आरोपी को युवती ने फोन किया और बताया कि वह गर्भवती है। उस समय आरोपी ने कहा कि मैं नहीं जनता मुझे इस बारे में कुछ नहीं पता। इतना कहकर उसने युवती का नंबर ब्लॉक कर दिया। समाज में बदनामी के डर से युवती ने इस बात की जानकारी पुलिस व अन्य किसी को नहीं दी.

Read more….उड़ीसा की रहनेवाली युवती की मिली लखनऊ में लाश

Exit mobile version