यात्रामनोरंजन

उत्तर प्रदेश राज्य में स्थित नैमिषारण्य धाम

नैमिषारण्य धाम एक प्रमुख हिन्दू तीर्थ स्थल है, जो भारत के उत्तर प्रदेश राज्य में स्थित है। इस स्थल का महत्व हिन्दू धर्म के इतिहास और पौराणिक कथाओं से जुड़ा हुआ है। नैमिषारण्य धाम का उल्लेख महाभारत महाकाव्य में होता है। इस स्थल पर महर्षि वेदव्यास ने महाभारत की कथा से जुड़ा हुआ है। यहां पर कुरुक्षेत्र युद्ध के बाद महर्षि वेदव्यास द्वारा महाभारत की कथा का प्रवचन भी हुआ था। पौराणिक कथाओं के अनुसार महर्षि वेदव्यास ने श्रीमद् भागवत पुराण का उपदेश दिया था।

नैमिषारण्य के तीर्थ स्थल में ललिता देवी मंदिर, नैमिषरण्य क्षेत्र, चक्रतीर्थ, हनुमान गढ़ी कई प्रमुख मंदिर हैं। यहां पर भगवान विष्णु के एक प्रतीक, चक्र तीर्थ, भव्य मंदिर, और अन्य धार्मिक स्थल हैं जहां भक्तगण आते हैं और पूजा अर्चना करते हैं।

सीतापुर से लगभग 35 किलोमीटर की दूरी पर है। लखनऊ से लगभग इसकी दूरी वही 80-84 किलोमीटर की दूरी पर है।

वायु मार्ग से:-

यदि आप वायुमार्ग से जाना चाहते है तो नैमिषारण्य का सबसे निकटवर्ती हवाई अड्डा लखनऊ का अमौसी एअरपोर्ट है। पहले अमौसी एअरपोर्ट आइये फिर वहा से आपको तमाम साधन मिल जायेंगे।

रेलवे मार्ग से:-

यहाँ का रेलवे स्टेशन बहुत ही छोटा है कानपुर और बालामऊ के रेलवे स्टेशन से नीमसार के लिए पैसेंजर ट्रेन उपलब्ध है। बालामऊ हरदोई से 40 किलोमीटर आगे है। और बालामऊ के लिए आपको कई ट्रेन मिल जाएँगी।

सड़क मार्ग से:-

आप सड़क मार्ग से आना चाहते है तो आपको लखनऊ , सीतापुर , हरदोई से आपको बड़ी आसानी से साधन मिल जायेंगे।

Read more….राजधानी रांची में पहाड़ी मंदिर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button