भारत

NEP की प्राथमिकता है कि भारत के हर युवा को सामान शिक्षा मिले तथा शिक्षा के सामान अवसर मिलें : पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के प्रगति मैदान के भारत मंडपम में आयोजित की गई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 की तीसरी वर्षगांठ के मौके पर दो दिवसीय अखिल भारतीय शिक्षा समागम का उद्घाटन किया इस कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ने पीएमश्री योजना के तहत धनराशि की पहली किस्त जारी की इसके अलावा उन्होंने शिक्षा और कौशल पाठ्यक्रम की 12 भारतीय भाषाओं में अनुदित पुस्तकों का विमोचन भी किया।

किताबें अब 22 क्षेत्रीय भाषाओं में होंगी

प्रधानमंत्री ने अखिल भरतीय शिक्षा समागम में अपने सम्बोधन में कहा कि नई शिक्षा नीति 2020 के अनुसार नेशनल करिकुलम फ्रेमवर्क बन गया है इसे जल्द ही लागू किया जायेगा जिसमे देश भर के सभी सीबीएसई स्कूलों के स्लेबस एक जैसा होगा उन्होंने बताया कि तीसरी से बारहवीं तक की नई किताबें आ गई हैं तथा ये किताबें 22 क्षेत्रीय भाषाओं में होंगी, उन्होंने कहा कि मात्रभाष में पढाई होने से भारत के ‘युवा टैलेंट’ के साथ अब असली न्याय की शुरुआत होने जा रही है।

Image source by twitter @PMOIndia

ये शिक्षा ही है जिसमें देश को सफल बनाने, देश का भाग्य बदलने की ताकत होती है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज 21वीं सदी का भारत जिन लक्ष्यों को लेकर आगे बढ़ रहा है उसमे हमारी शिक्षा व्यवस्था का बहुत ज्यादा महत्त्व है, ये शिक्षा ही है जिसमें देश को सफल बनाने, देश का भाग्य बदलने की ताकत होती है, उन्होंने कहा की अखिल भारतीय शिक्षा समागम की इस यात्रा में एक संदेश छिपा है, ये संदेश है- प्राचीनता और आधुनिकता के संगम का! एक और हमारी शिक्षा व्यवस्था भारत की प्राचीन परम्पराओं को सहेज रही है, तो दूसरी तरफ आधुनिक विज्ञानं तथा उन्नत तकनीक की फिल्ड में भी हम उतनी ही तेज आगे बढ़ रहे हैं।

Image source by twitter @PMOIndia

इन 25 सालों में हमें ऊर्जा से भरी एक युवा पीढ़ी का निर्माण करना है: PM मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव में आने वाले 25 साल बहुत अहम हैं इन 25 सालों में हमें ऊर्जा से भरी एक युवा पीढ़ी का निर्माण करना है, उन्होंने कहा ऐसी युवा पीढ़ी जो गुलामी की मानसिकता से मुक्त हो, जो नए नए इन्नोवेशंस के लिए लालायित हो, जो विज्ञान और खेल में भारत का नाम आगे बढ़ाये, जो 21वीं सदी के भारत की आवश्यकतों को समझते हुए अपने सामर्थ्य बढ़ाये तथा जो कर्तव्य बोध से भरी हुई हो व अपने दायित्वों को जानती समझती हो।

Image source by twitter @PMOIndia

भारत के हर युवा को सामान शिक्षा मिले

प्रधानमंत्री ने कहा कि National Education Policy का विज़न ये है, देश का प्रयास ये है कि हर वर्ग में युवाओं को एक जैसे अवसर मिलें, तथा भारत के हर युवा को सामान शिक्षा मिले तथा शिक्षा के सामान अवसर मिलें उन्हने कहा कि समान शिक्षा का मतलब है शिक्षा के साथ-साथ संसाधनों तक समान पहुंच, हर बच्चे की समझ और चॉइस के हिसाब से उसे विकल्प मिलना तथा स्थान वर्ग क्षेत्र के कारण बच्चे शिक्षा से वंचित न रहें।

read more… भारत मंडपम में अखिल भारतीय शिक्षा समागम के उद्घाटन पर पीएम मोदी LIVE

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
मुंबई की तूफानी बारिश से सन्नी लियोन को बड़ा नुकसान, खोईं 3 लग्जरी कारें, बोलीं- डरावना मंजर… नॉर्थ कोरिया की विक्ट्री डे परेड अरे क्यों किया किस..
मुंबई की तूफानी बारिश से सन्नी लियोन को बड़ा नुकसान, खोईं 3 लग्जरी कारें, बोलीं- डरावना मंजर… नॉर्थ कोरिया की विक्ट्री डे परेड अरे क्यों किया किस..