होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

बरेली समेत 18 शहर बनेंगे सेफसिटी, उत्तर प्रदेश बनेगा देश की नंबर वन अर्थव्यवस्था : सीएम योगी

बरेली समेत 18 शहर बनेंगे सेफसिटी, उत्तर प्रदेश बनेगा देश की नंबर वन अर्थव्यवस्था : सीएम योगी

बरेली कॉलेज ग्राउंड में प्रबुद्ध सम्मेलन को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 1459 करोड़ की 188 विकास की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। बरेली की जनता का आभार व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि विधानसभा चुनाव में 9 में से 7 सीटें भाजपा की झोली में डाली है। उन्होंने कहा कि डबल इंजन की सरकार बरेली समेत प्रदेश के विकास की प्रतिबद्धता के लिए काम कर रही है। आम जनमानस की सुविधाओं को देखते हुए शहरों को स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित किया जा रहा है। निवेशकों के परिश्रम और पुरुषार्थ से शहर स्मार्ट हो रहे हैं। प्रदेश में बरेली ने सबसे ज्यादा डॉक्टर जनप्रतिनिधि दिए हैं। बरेली अभी तक झुमका शहर के रूप में जाना जा रहा था लेकिन अब स्मार्ट सिटी के रूप में इसकी पहचान बढ़ रही है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इंटीग्रेटेड कंट्रोल कमांड सेंटर के जरिए स्मार्ट मिशन में कोविड-19 की बेहतर व्यवस्था की गई। वही कूड़ा प्रबंधन और शहर को सुरक्षित रखने की दिशा में भी महत्वपूर्ण कार्य किया गया है। पिछले साढ़े पांच साल में प्रदेश में बेहतर सुरक्षा और कानून व्यवस्था स्थापित हुई है। 

बरेली समेत प्रदेश के 18 शहरों को सेफ सिटी बनाने के कार्यक्रम को आगे बढ़ाया जा रहा है। इसका परिवर्तन व्यापक रूप से देखने को मिल रहा है। जहां पहले तारों के गुच्छे लटक रहे थे। वह शहर और बाजार अब स्मार्ट हो रहे हैं। मुख्यमंत्री ने एक जिला एक उत्पाद योजना समेत कई सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों को ऋण के चैक दिए। इसके अलावा मुख्यमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को चाबी दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि बरेली समेत पूरे प्रदेश के युवाओं को स्मार्ट बनाया जा रहा है। दो करोड़ युवाओं को स्मार्ट टेबलेट और फोन दिए जा रहे हैं। सपा बसपा सरकारों पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि साढ़े पांच साल से पहले बरेली में कर्फ्यू और बंटवारे हो रहे थे। जब से भाजपा की सरकार है। बरेली में एक भी कर्फ्यू नहीं लगा है। यहां विकास की बयार बहने लगी है। बरेली की कनेक्टिविटी बढ़ी है। अब सड़क से लेकर हवाई कनेक्टिविटी तेजी से बढ़ रही है। इससे एक शहर से दूसरे शहर का आवागमन सुगम हुआ है। 

उन्होंने कहा कि डबल इंजन की सरकार के साथ अब हमें निकाय के बोर्ड को भी लाना होगा। पिछले पांच साल में बोर्ड ने स्मार्ट सिटी में जो विकास के काम किए हैं। उनको और आगे बढ़ाने की जरूरत है। उत्तर प्रदेश जल्द ही देश की नंबर वन अर्थव्यवस्था बनेगा। इस दिशा में व्यापक रूप से तैयारियां शुरू हो गई हैं।

36700 लाभार्थियों को मिला मुख्यमंत्री आवास योजना में लाभ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना और मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत शहरी क्षेत्रों में 17700 और ग्रामीण क्षेत्रों में 14000 गरीबों को इस योजना से लाभ पहुंचाया गया। उन्हें आवास मुहैया कराए गए। अकेले बरेली में 31700 लोगों को आवास पिछले 5 साल में आवास मुहैया कराए गए। इसके अलावा प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के अंतर्गत 29000 पटरी, रेड़ी, ठेले, खोमचे वालों को ऋण देकर उन्हें स्मार्ट शॉप में परिवर्तित किया गया। उन्होंने कहा कि इससे लोगों के शहरी जीवन स्तर में सुधार आया है। लोगों के शहरी जीवन में व्यापक परिवर्तन लाने के लिए डबल इंजन की सरकार पूरी तरह से प्रतिबद्ध है।


बरेली समेत उत्तर प्रदेश बन रहा निवेशकों की पसंद, सुरक्षित माहौल ने दिया निवेश को बढ़ावा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम अच्छा हुआ है। बरेली समेत उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था सुदृढ़ हुई है। इससे पिछले पांच साल में बरेली में कोई भी कर्फ्यू दंगा नहीं हुआ है। किसी की हिम्मत नहीं हुई है कि कोई आपके त्योहारों पर व्यवधान डाल दे। इसकी वजह से निवेश का सबसे बड़ा गंतव्य बरेली बन रहा है। उन्होंने कहा कि 10 से 12 फरवरी को इन्वेस्टर सम्मिट होने जा रहा है। इसमें बरेली से जुड़े तमाम उद्यमी रहेंगे। उन्होंने सभी प्रगतिशील किसानों, उद्यमियों, छात्रों, डॉक्टरों, शिक्षकों और प्रबुद्धजनों से कहा कि वह निवेश करें किसी को कोई  समस्या नहीं होगी।

आप उद्योग लगाएं मुख्यमंत्री कार्यालय करेगा मॉनिटरिंग

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंच से निवेशकों को आमंत्रित किया। उन्होंने कहा कि वह उद्योग धंधे लगाएं। हॉस्पिटल, स्कूल, फूड प्रोसेसिंग फैक्ट्री के लिए आवेदन करें। मुख्यमंत्री कार्यालय उसकी मॉनिटरिंग करेगा। निवेशकों को कहीं भी किसी भी तरह की कोई दिक्कत नहीं आने दी जाएगी। सुरक्षा व्यवस्था से लेकर डबल इंजन की सरकार पारदर्शी प्रक्रिया से उद्योगों को और निवेशकों को आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। मुख्यमंत्री कार्यालय से उनके उद्योग को मिलने वाले लोन सब्सिडी की मॉनिटरिंग की जाएगी। किसी भी निवेशक को सरकारी सिस्टम से कोई अड़चन नहीं होगी। भ्रष्टाचार और भय मुक्त सुशासन से प्रदेश में रोजगार पर्यटन और उद्योगों को बढ़ावा दिया जाएगा।