50,000 और युवाओं को मिलेगी सरकारी नौकरी : सीएम योगी

 50,000 और युवाओं को मिलेगी सरकारी नौकरी : सीएम योगी

उत्तर प्रदेश में मिशन रोजगार के तहत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उप्र लोक सेवा आयोग से चयनित 130 आबकारी निरीक्षकों नियुक्ति पत्र वितरित किए। नवनियुक्त-आबकारी निरीक्षकों को बधाई देते हुए सीएम योगी ने कहा कि लोक सेवा-आयोग ने ईमानदारी और पारदर्शिता से चयन किया है। आपको किसी भी स्तर पर किसी सिफारिश की जरूरत नहीं पड़ी होगी। आप सभी की कार्यपद्धति-आचरण और व्यवहार अच्छा रहे यही अपेक्षा है। इस मौके पर उन्होंने कहा कि दिसंबर तक 50 हजार और नौजवानों को सरकारी नौकरी मिलेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि चार साल पहले शुचिता और ईमानदारी का अभाव था। पहले जातिवाद, क्षेत्रवाद और भाई-भतीजावाद प्रभावी था। इन बाधाओं को दूर किया है। उत्तर प्रदेश के सभी भर्ती आयोगों को संदेश दिया है कि हर किसी भर्ती में पारदर्शिता होनी चाहिए। योगी ने कहा कि पिछले साढ़े चार साल में चार लाख से ज्यादा युवाओं को पारदर्शिता के साथ नौकरियां दी गई हैं। सरकार की भर्ती प्रक्रिया पर कोई अंगुली नहीं उठा सकता है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहले नियुक्ति निकलने पर कुछ लोगों की अपनी प्रक्रिया शुरू हो जाती थी। सरकार ने बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचारियों को जेल में डाला, संपत्ति जब्त की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के युवा किसी के बहकावे में ना आएं। अब जिसको अपनी प्रॉपर्टी जब्त करानी होगी वही गलत करेगा।

जनता के सेवक

सीएम योगी आदित्यनाथ ने नवनियुक्त आबकारी निरीक्षकों से कहा कि पूरी ईमानदारी से काम करें। गलत करने वालों के लिए सरकार की तलवार हमेशा लटकती है। कानून की व्यवस्था के विरुद्ध और किसी जीवन को खतरे में डालने वाला कोई काम ना होना चाहिए। सीएम ने कहा कि हम जनता के मालिक
नहीं है जनता हमारी मालिक है। जनता के लिए ईमानदारी से काम करना है।

0Comments