कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने गत दिवस केंद्रीय उर्वरक मंत्री, मनसुख मंडाविया से भेंट की

कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने गत दिवस केंद्रीय उर्वरक मंत्री, मनसुख मंडाविया से भेंट की

उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने केंद्रीय उर्वरक मंत्री, मनसुख मंडाविया से कल दिल्ली में भेंट कर उत्तर प्रदेश के किसानों की मांग एवं आवश्यकता के दृष्टिगत पर्याप्त मात्रा में आयातित यूरिया की आपूर्ति कराने का अनुरोध किया। कृषि मंत्री के अनुरोध पर मा0 केंद्रीय उर्वरक मंत्री द्वारा प्रदेश के किसानों की मांग, आवश्यकता एवं प्रोराटा लक्ष्य के अनुसार ससमय यूरिया की उपलब्धता सुनिश्चित कराने का आश्वासन दिया गया।


कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने केंद्रीय उर्वरक मंत्री को बताया कि प्रदेश में स्वदेशी एवं आयातित यूरिया उर्वरक हेतु निर्धारित लक्ष्य कुल 26.89 लाख मी0टन के सापेक्ष 17.69 लाख मी0टन यूरिया की उपलब्धता है। यह भी अवगत कराया गया कि खरीफ एवं रबी के पीक सीजन में कृषकों को उर्वरकों की एक साथ मॉग के समय सुगम उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए प्रदेश में पी0सी0एफ0 द्वारा प्रीपोजीशनिंग योजना के अन्तर्गत सहकारी उर्वरक विनिर्माता/प्रदायकर्ता संस्थाओं यथा मै0 इफको एवं मै0 कृभको से उर्वरक प्राप्त कर भण्डारण भी इसी अवधि में किया जाता है। वर्ष 2021-22 हेतु यूरिया उर्वरक हेतु 5.00 लाख मी0टन प्रीपोजीशनिंग का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, जिसके लिए माह जुलाई में आयातित उर्वरक के वैसल से प्रदेश हेतु आवंटन बढाये जाने की आवश्यकता है।

कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि प्रदेश में खरीफ फसलों की बुवाई एवं रोपाई का कार्य तेजी से किया जा रहा है। प्रदेश में 20 जुलाई, 2021 तक 58.81 प्रतिशत आच्छादन की पूर्ति हो चुकी है। माह जुलाई एवं अगस्त में खरीफ सीजन की फसलों में यूरिया उर्वरक की टॉप ड्रेसिंग का कार्य कृषकों के द्वारा किया जायेगा। प्रदेश के कृषकों को उनकी आवश्यकतानुसार सुचारू रूप से उर्वरक उपलब्ध कराये जाने हेतु उर्वरक बिक्री केन्द्रों पर समय से पूर्व यूरिया उर्वरक की उपलब्धता सुनिश्चित कराया जाना अति आवश्यक है। समय से उर्वरक आपूर्ति सुनिश्चित किये जाने हेतु उर्वरक विनिर्माता/प्रदायकर्ता कम्पनियों के साथ निरन्तर समीक्षा बैठकें भी की गयी हैं।

0Comments