होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

अंबेडकर ने नहीं की जाति की राजनीति, बल्कि दी राष्ट्र धर्म की शिक्षा : योगी आदित्यनाथ

अंबेडकर ने नहीं की जाति की राजनीति, बल्कि दी राष्ट्र धर्म की शिक्षा : योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि पिछली सरकारों ने अनुसूचित जातियों, अनुसूचित जनजातियों और पिछड़े वर्गों के लिए जुमलेबाजी की थी। इसके विपरीत भारतीय जनता पार्टी की सरकार इन समुदायों के प्रतिष्ठित व्यक्तित्वों के स्मारकों के नवीनीकरण और सौंदर्यीकरण में व्यस्त थी।


रविवार को वाराणसी में भाजपा के अनुसूचित जाति (एससी) मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के समापन सत्र में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए आदित्यनाथ ने कहा कि यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही थे, जिन्होंने साल 2014 में 'स्वच्छ भारत मिशन' की शुरुआत की थी, जबकि पिछली सरकारें पिछड़े समुदायों को कोई महत्वपूर्ण लाभ देने में विफल रहा।


आदित्यनाथ ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत देश भर में 10 करोड़ लोगों के घरों में शौचालय बनाए गए और लाभार्थियों में 95 फीसदी एससी, एसटी और अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) से थे। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में शौचालय निर्माण के लिए कुल 26.1 मिलियन लोगों को सहायता दी गई है।


योगी ने यह भी कहा कि स्वच्छ भारत मिशन से लोगों के जीवन में अभूतपूर्व सुधार आया है। इससे दुनिया में भारत की छवि बदली है। भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई अन्य कल्याणकारी योजनाओं का जिक्र करते हुए योगी ने कहा कि देश में 'पीएम आवास योजना' के तहत 2.5 करोड़ लोगों को घर दिए गए हैं।


उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में साल 2017 के बाद से 42 लाख लोगों को घर दिया गया है, 15 करोड़ लोगों सहित देश में 80 करोड़ लोगों को मुफ्त में राशन दिया जा रहा है।


योगी ने आरोप लगाया कि समाजवादी पार्टी के शासन के दौरान सोनभद्र, कुशीनगर और चित्रकूट जिलों से भुखमरी के कारण मौत होने की खबरें सामने आईं क्योंकि गरीबों के लिए जिन मुफ्त राशनों की व्यवस्था कराई गई थी, उन पर सपा कार्यकर्ताओं ने कब्जा जमा लिया था। उन्होंने कहा कि इस पर एक जांच हुई, जिसके बाद धोखाधड़ी समाप्त हो गई। साल 2017 में राज्य में सत्ता संभालने के बाद भाजपा सरकार ने इस जांच का आदेश दिया था, जिसमें 40 लाख नकली राशन कार्ड पाए गए।


योगी ने कहा कि कोविड-19 (Covid-19) महामारी के दौरान भी किसी को भी भूखा मरने के लिए नहीं छोड़ा गया क्योंकि सभी गरीब लोगों के लिए मुफ्त राशन सुनिश्चित किया गया था।


योगी ने पिछड़े समुदायों के स्मारकों को सुशोभित और पुनर्निर्मित करने के लिए कई परियोजनाओं को सूचीबद्ध करते हुए कहा कि वाराणसी के सीर गोवर्धन में संत रविदास मंदिर बनाया जा रहा है, बहराइच में महाराजा सुहेलदेव का स्मारक बनाया जा रहा है। इसके अलावा, लखनऊ में बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर के लिए एक राष्ट्रीय स्मारक भी बनाया जा रहा है। 

सीएम योगी ने जनपद वाराणसी के विकास कार्यों के लिए जिला प्रशासन को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए

कोई भी गरीब व्यक्ति शासन की योजनाओं से वंचित न रहने पाए : सीएम योगी

सीएम योगी ने अयोध्या में भारतीय जनता पार्टी पिछड़ा वर्ग मोर्चा की प्रदेश कार्यकारणी की बैठक को सम्बोधित किया

0Comments