होम > खेल

जानिए किस बात को लेकर भिन्न हुए अश्विन और गावस्कर के विचार

भारतीय टीम के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के विचार 100 गेंदों के क्रिकेट टूर्नामेंट द हंड्रेड को लेकर टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर से अलग हैं। गावस्कर ने इस टूर्नामेंट की आलोचना की है, वहीं अश्विन ने इसे बेहतरीन बताया है।


अश्विन ने यू-ट्यूब चैनल से कहा, ‘‘जो लोग इस प्रारूप को नहीं समझ पा रहे हैं वही इसके फॉर्मेट और नियमों में बदलाव की बात कर रहे हैं। कई लोग नवाचार को प्रोत्साहित नहीं करते और इसे गलत समझते हैं। जब कोई फिल्म बनाता है और हम लोग उसे देखने जाते हैं, तभी इसकी आलोचना कते हैं। लेकिन थिएटेर जाने से पहले ही टिप्पणी करना सही नहीं है।’’


उन्होंने कहा, ‘‘मैंने महिलाओं के मैच में ओवल इंविंसिबल्स और मैनचेस्टर ओरिजिनल्स के बीच मुकाबला देखा। नाम अलग होने से मैच बेहतरीन रहा। मुझे खुशी होगी अगर महिला आईपीएल का आयोजन किया जाए।’’


अश्विन ने कहा, ‘‘हंड्रेड फॉर्मेट का शुरू होना उत्साहित करने वाला है। कई लोगों का मानना है कि इस प्रारूप से खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर प्रभाव पड़ेगा लेकिन मुझे यह मजेदार लग रहा है।’’


इससे पहले, गावस्कर ने कहा था कि इस टूर्नामेंट में सामान्य क्रिकेट है।


गावस्कर ने कहा था, ‘‘टीवी पर इसे देखने के बाद एक ही शब्द दिमाग में आता है वो है फीका। यहां सामान्य क्रिकेट खेला जा रहा है।’’


0Comments