होम > भारत

वायु सेना को मिल सकेंगी आकाश मिसाइल, रक्षा मंत्रालय ने किया निर्माण और आपूर्ति के लिए करार

हैदराबाद | देश की वायु सेना को और सशक्त बनाने के लिए रक्षा मंत्रालय ने भारत डायनेमिक्स लिमिटेड (बीडीएल) के साथ एक करार किया है। गुरुवार को बीडीएल ने भारतीय वायु सेना को आकाश मिसाइलों के निर्माण और आपूर्ति के लिए रक्षा मंत्रालय के साथ लगभग 499 करोड़ रुपये के अनुबंध पर हस्ताक्षर किए। 

नई दिल्ली में बीडीएल के निदेशक (उत्पादन) पी. राधाकृष्ण की उपस्थिति में इस अनुबंध पर हस्ताक्षर किए गए। बीडीएल के सीएमडी, कमोडोर सिद्धार्थ मिश्रा (सेवानिवृत्त) ने कहा कि बीडीएल भारतीय सेना और भारतीय वायु सेना को आकाश मिसाइलों की आपूर्ति कर रहा है। निर्यात के लिए आकाश हथियार प्रणाली की मंजूरी के संबंध में केंद्रीय मंत्रिमंडल की घोषणा के साथ कंपनी विदेशों में भी इसके निर्यात के लिए आकाश की पेशकश करने पर विचार कर रही है।

उन्होंने कहा कि बीडीएल को मिसाइल की खरीद में रुचि व्यक्त करने वाले कुछ देशों से निर्यात लीड पहले ही मिल चुकी है। इन आदेशों को निष्पादित करने और ग्राहक वितरण कार्यक्रम को पूरा करने के लिए कंपनी के पास एक अच्छी तरह से स्थापित बुनियादी ढांचा और विशेषज्ञता मौजूद है।