होम > राज्य > मध्यप्रदेश

बदलते समय के साथ अपनी कार्यशैली को बदल रही है मप्र में भाजपा

बदलते समय के साथ अपनी कार्यशैली को बदल रही है मप्र में भाजपा

भोपाल | भारतीय जनता पार्टी बदलते समय के साथ साथ अपने आपको, अपनी कार्य शैली को और संगठनात्मक ढाँचे को भी बदल रही है। अब मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी का संगठन अपनी कार्यशैली और बदलते स्वरूप के कारण सियासत के मैदान में चर्चाओं में है। संगठन लगातार नवाचार कर रहा है, यही कारण है कि देश के गृहमंत्री अमित शाह ने भी राज्य के संगठन का लोहा माना है।

राज्य में भाजपा की कमान लगभग डेढ़ साल पहले खजुराहो से सांसद विष्णु दत्त शर्मा के हाथ में आई और उसके बाद राज्य में सत्ता में बदलाव हुआ और भाजपा एक बार फिर सत्ता में लौटी। इस दौरान तमाम बड़े नेताओं ने शर्मा को पार्टी का शुभंकर तक कहा था। बीते डेढ़ साल की अवधि की संगठन की कार्यशैली और प्रणाली पर गौर किया जाए तो पार्टी का चेहरा ही बदलता नजर आता है।

राज्य में भाजपा में युवाओं को जहां मौका दिया जा रहा है तो वहीं वरिष्ठ नेताओं से मार्गदर्शन लेने की परंपरा को और आगे बढ़ाया गया है। प्रदेश इकाई से लेकर जिला इकाइयों तक में नए चेहरों को बड़ी तादाद में जगह दी गई है तो वही संभागीय संगठन मंत्रियों को ही हटा दिया गया है, संभवत: यह पहली बार किसी राज्य में हुआ है। इतना ही नहीं कोरोना महामारी के दौर में और उसके बाद जारी वैक्सीनेशन अभियान में भाजपा संगठन ने अच्छी खासी भूमिका निभाई है। इसके अलावा जमीनी स्तर पर संगठन को मजबूत करने के प्रयास चल रहे हैं।

राज्य में भाजपा के बदलते स्वरूप ने हर किसी राजनेता का ध्यान अपनी ओर खींचा है। यही कारण है कि देश के गृहमंत्री ने भी संगठन और प्रदेशाध्यक्ष शर्मा की खुलकर तारीफ की।

जबलपुर प्रवास पर आए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन में कहा कि कुशाभाऊ ठाकरे जन्मशताब्दी वर्ष के मुद्दे पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष से पूछा कि इस अवसर पर आप क्या करने वाले हैं, कुशाभाऊ ठाकरे की जन्म शताब्दी तो पार्टी अखिल स्तर पर मनाएगी, मगर मध्य प्रदेश तो उनका जन्म और कर्म स्थान है, इस पर राज्य में क्या हो रहा है।

उन्होंने आगे कहा कि मध्य प्रदेश में बहुत अच्छी योजना वीडी शर्मा के नेतृत्व में मध्य प्रदेश भाजपा ने बनाई है। इसमंे एक जनप्रतिनिधि, एक कार्यकर्ता सेवा प्रकल्प के कार्यकर्ता को रखा है, ऑनलाइन कर बूथ ऑनलाइन कर डाटा इकट्ठा किया, बूथ को ऑनलाइन करने का कार्यक्रम किया है, बूथ को मजबूत करने के सूत्र बनाए गए हैं। इसके साथ ही जीवंत कार्यालय का उदाहरण भी रखने वाले हैं। अभ्यास वर्ग करने वाले हैं। उसके साथ सबसे बड़ी बात है, पूर्णकालिक कार्यकर्ता निकालने की योजना बनाई है। पूर्णकालिक कार्यकर्ता बनेंगे तो कुशाभाऊ जी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि भाजपा का प्रदेश संगठन हमेशा से देश में पार्टी के लिए आदर्श रहा है, मगर शर्मा के अध्यक्ष बनने के बाद संगठन की गतिशीलता में और तेजी आई है। शर्मा भाजपा के ऐसे प्रदेशाध्यक्ष है, जिनका भोपाल में कम, बल्कि राज्य के अलग-अलग हिस्सों में ज्यादा समय जाता है, कुल मिलाकर उनका हर दिन संगठन की मजबूती के लिए गुजरता है।

0Comments