होम > मनोरंजन > यात्रा

बीकानेर शहर के दो प्रसिद्ध जैन मंदिरों में से एक भांडासर जैन मंदिर

बीकानेर शहर के दो प्रसिद्ध जैन मंदिरों में से एक भांडासर जैन मंदिर

बीकानेर शहर के दो प्रसिद्ध जैन मंदिरों में से एक भांडासर जैन मंदिर हैं। यहां पर्यटकों के घूमने जाने के लिए पहली पसंद स्थल हैं।

यह मंदिर 16वीं शताब्दी के दौरान एक भंडसा ओसवाल नामक एक व्यापारी ने बनवाया था। यह मंदिर मूल रूप से पांचवे जैन तीर्थकर सुमितनाथ को समर्पित हैं।

भांडासर जैन मंदिर पीले पत्थरों की नक्काशी और दर्शनीय चित्रों के साथ सुसौभित है। मंदिर के आंतरिक भाग के स्तंभों और दीवारों पर बने चित्र इस मंदिर की खूबसूरती को परिभाषित करते है। भांडासर जैन मंदिर दीवारों पर 24 जैन शिक्षकों को चित्रित किया गया हैं। इस मंदिर की तीन मंजिला ईमारत है। पहली मंजिल पर देवताओं की संतानों के लघु चित्रों को रखा गया।

मंदिर के सबसे ऊपरी मंजिल से पर्यटकों को शहर का खूबसूरत दृश्य दिखाई देता है।

हवाई मार्ग द्वारा :- राजस्थान के आपको जोधपुर हवाई अड्डा बीकानेर से सबसे निकटतम हवाई अड्डा है। यह हवाई अड्डा बीकानेर से लगभग 251 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। हवाई अड्डे से बीकानेर पहुंचने के लिए आप बस या टेक्सी से आप अपने गंतव्य स्थान तक पहुंच जायेंगे।

रेलवे मार्ग द्वारा :- राजस्थान का बीकानेर जंक्शन और लालगढ़ रेलवे स्टेशन के बीच की दूरी लगभग 6 किलोमीटर हैं। यह दोनों स्टेशन बीकानेर को भारत के प्रमुख शहरों जैसे दिल्ली, पंजाब, जोधपुर, हैदराबाद, मुंबई, कोलकाता, अहमदाबाद और गुवाहाटी आदि प्रमुख शहर से जोड़ते हैं। आप रेलवे स्टेशन से यहां चलने वाले स्थानीय साधनों से अपने गंतव्य स्थान तक पहुंच जायेंगे।

सड़क मार्ग द्वारा :- बीकानेर पहुंचने के लिए सड़क मार्ग का जाल बिछा हुआ है। भारत के प्रमुख बड़े से चलने वाली बसों के माध्यम से जुड़ा हुआ हैं। आप राज्य परिवहन की बसे या अपने निजी साधन से बीकानेर पहुंच सकते हैं।