होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

सीएम योगी ने अयोध्या को 46 विकास परियोजनाओं समेत लाभार्थियों को चाबी, चेक व प्रमाण पत्र प्रदान किए

सीएम योगी ने अयोध्या को 46 विकास परियोजनाओं समेत लाभार्थियों को चाबी, चेक व प्रमाण पत्र प्रदान किए

विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों के सपने हुए साकार 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रामनगरी में रविवार को विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों के सपनों को साकार किया। उन्हें चेक, चाबी व प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। 
▪️सीएम ने पीएम शहरी आवास योजना के लाभार्थी दुर्गेश, जुबैदा खातून, रंजू शुक्ला, रीता गौड़, नीलम को चाबी दी। 
▪️मुख्यमंत्री ने पीएम स्वनिधि योजना के लाभार्थी सौरभ गुप्ता, दीपक, विकास यादव, रूपचंद्र और जितेंद्र को प्रमाण पत्र दिया। 
▪️मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत रविंद्र प्रताप सिंह, सुजीत कुमार शुक्ला, सत्येंद्र कुमार को चेक प्रदान किया गया।
▪️ओडीओपी के लाभार्थी रजनीश कुमार जायसवाल, संजय कुमार जायसवाल को भी चेक प्रदान किया।

अयोध्या सात पावन पुरियों में से प्रथम है। मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की जन्मभूमि है। 500 वर्षों का इंतजार समाप्त कर यहां श्रीराम मंदिर का निर्माण प्रारंभ हो चुका है। अयोध्या में केंद्र व प्रदेश सरकार की ओर से 30 हजार करोड़ की परियोजनाएं स्वीकृत की गई हैं। दुनिया बढ़ रही है तो अयोध्या भी पीछे नहीं रहेगी। अध्यात्म व सांस्कृतिक रूप के साथ भौतिक विकास के भी नए प्रतिमान स्थापित करेंगे। यहां के अपराधी गायब हो चुके हैं। जो कभी दादा बनकर घूमते थे, वो आज सिर झुकाकर ठेला चलाते नजर आ रहे हैं। यह बातें रविवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में प्रबुद्धजन सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहीं। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने अयोध्या को 1057 करोड़ की 46 विकास परियोजनाओं की सौगात दी। इस दौरान सीएम ने विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को चाबी, चेक व प्रमाण पत्र भी प्रदान किया।

विकास में नहीं होगी पैसों की कमी

सीएम योगी ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव वर्ष में आगामी 25 वर्ष (2047) की कार्ययोजना को लेकर कैसा भारत, यूपी व अयोध्या चाहिए, इस निमित्त अयोध्या आया हूं। यहां हर क्षेत्रों के लोग हैं। हर व्यक्ति अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने लग गया तो समस्याओं का समाधान हो जाएगा। दूसरों को पाठ पढ़ाने से विवाद शुरू होता है। मैं आश्वस्त करता हूं कि विकास के लिए अयोध्या में पैसे की कोई कमी नहीं पड़ेगी। डबल इंजन की सरकार अयोध्या की सेवा में है। दीपोत्सव में पीएम मोदी का आगमन नए अयोध्या की आहट को प्रदर्शित करता है। उनका आगमन अयोध्या के प्रति निष्ठा को परिलक्षित करता है। भव्य राम मंदिर का निर्माण पीएम मोदी की दृढ़ इच्छाशक्ति का परिणाम है। 

जगमगा रही है अयोध्या

गोरक्षपीठाधीश्वर ने कहा कि जब यहां आते थे तो संतजन कहते थे कि योगी जी एक बात बताओ, रामलला के मंदिर का निर्माण कराओ। इस प्रश्न का भी उत्तर मिल गया। स्मार्ट सिटी मिशन के तहत सड़कें, आईटीएमएस, लटकते-झूलते तारों से निजात दिलाया जा रहा। सेफ सिटी के साथ अच्छे बस स्टेशन, चौड़ी सड़कें, मंडी निर्माण, कन्वेंशन सेंटर समेत जनता को बुनियादी सुविधाएं दी जा रही हैं। 2017 के पहले अयोध्या में बिजली आती नहीं थी, अब जाती नहीं है। पिछली सरकारें अंधकार में रहने को अभ्यस्त थी, हमारी सरकार 24 घंटे बिजली दे रही है। आज एलईडी स्ट्रीट लाइट से अयोध्या जगमगा रही है। डबल इंजन की सरकार ने अयोध्या को नगर निगम बनाया। 2017 के पहले राम की पैड़ी में जो पानी आता था, वहीं सड़ता था। आज एक तरफ से पानी आता है, दूसरी तरफ से निकल जाता है। यह नई अयोध्या की तस्वीर है। 

अयोध्या में विकास के साथ निवेश की संभावना

सीएम योगी ने अयोध्या को असीमित संभावनाओं से भरपूर करार देते हुए कहा कि अयोध्या विकास के साथ निवेश की भी संभावनाएं लेकर आ रहा है। आपके निवेश को सुरक्षित माहौल देना हमारा दायित्व है। सरकार हर सुविधा दे रही है। आज सड़कें दो लेन से चार लेन, चार लेन से छह लेन, छह लेन से आठ लेन की हो रही है। हो सकता है कि मार्ग निर्माण के दौरान किसी व्यापारी को हटना पड़ सके, लेकिन हर व्यापारी को पुनर्वास व मुआवजा देंगे। कोई शोषण नहीं कर पाएगा। 2-4 महीना भले आपको परेशानी हो, लेकिन आने वाला समय आपके लिए अवसर लेकर आएगा। पर्यटकों की संख्या यहां बहुत तेजी से बढ़ने वाली है। इससे लाखों युवाओं को रोजगार से जोड़ा जाएगा। यूपी में ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में 45 लाख, शहरी क्षेत्र में 17 लाख, ग्रामीण क्षेत्र में 8.62 लाख नए आवास आ चुके हैं। मुख्यमंत्री आवास योजना से एक लाख आवास उपलब्ध करा रहे हैं। हजारों आवास अयोध्या में दिए गए। पीएम स्वनिधि योजना के तहत पटरी व्यवसाइयों के लिए ब्याज फ्री लोन की सुविधा देकर उनकी राह सुगम कर रहे हैं। 

गायब हो चुके हैं अपराधी

अयोध्या समेत पूरे प्रदेश में सुदृढ़ कानून व्यवस्था को लेकर सीएम बोले कि 2017 के पहले व्यापारी पलायन कर रहा था। अपराधी कहीं भी विस्फोट, लूट, गुंडागर्दी, फिरौती करते थे। गुंडा टैक्स मांगता था पर अब अपराधी गायब हो चुके हैं। कइयों ने वेशभूषा बदल ली है। जो पहले दादा बनकर घूमते थे, वे आज सिर झुकाकर ठेला चलाते दिख रहे हैं। मेहनत करके कमाना स्वालंबन की निशानी है। चोरी से छीन लेना कायरता की निशानी है। हमें कायर नहीं, बल्कि स्वावलंबन के साथ लोगों को बढ़ाना है। विकास के कार्य तेजी से बढ़ रहे हैं। अयोध्या को जोड़ने वाला लखनऊ, गोरखपुर, जौनपुर, काशी, प्रयागराज, गोंडा समेत हर मार्ग तेजी से विकास कर रहा है। विकास की सोच को बढ़ाने के लिए हमें कार्य करना होगा।