होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

कल्याण की पार्थिव शरीर लेकर अलीगढ़ पहुंचे सीएम योगी

कल्याण की पार्थिव शरीर लेकर अलीगढ़ पहुंचे सीएम योगी

अलीगढ़ | भारतीय राजनीति के पुरोधा कहे जाने वाले यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत कल्याण सिंह का पार्थिव देह को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लखनऊ से अलीगढ़ पहुंचे। सोमवार शाम को राजकीय सम्मान के साथ कल्याण सिंह की की अंत्येष्टि की जाएगी। अलीगढ़ के अहिल्याबाई होलकर स्टेडियम में उनके अंतिम दर्शन के लिए लोगों जनसैलाब उमड़ पड़ा। पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के अंतिम दर्शन के लिए रामघाट रोड स्थित अहिल्याबाई होल्कर स्पोर्ट्स स्टेडियम में जनसैलाब उमड़ पड़ा। इस दौरान जनता अपने चहेते नेता के अंतिम दर्शन के लिए आतुर रही। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह सहित अन्य नेताओं ने कल्याण सिंह के पार्थिव शरीर पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धासुमन अर्पित किया।

पार्थिव शरीर पहुंचते ही लोग 'जब तक सूरज चांद रहेगा, कल्याण सिंह का नाम रहेगा, कल्याण सिंह अमर रहें' और 'जय श्रीराम' के नारे लगे। रास्ते में भी शव वाहन पर लोगों ने फूलों की वर्षा कर चहेते नेता को अंतिम विदाई दी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वयं अधिकारियों को जरूरी निर्देश दे रहे थे। उन्होंने सबसे पहले कल्याण सिंह के पार्थिव शरीर पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

कल्याण सिंह का अंतिम संस्कार सोमवार शाम बुलंदशहर के नरौरा में गंगा नदी के तक तट पर किया जाएगा। उनके अंतिम संस्कार में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्र सरकार के कई मंत्री, भाजपा शासित प्रदेशों की सरकारों के मुख्यमंत्री, पार्टी के पदाधिकारी और हजारों समर्थक मौजूद रहेंगे।

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी लखनऊ में भाजपा कार्यालय से कल्याण सिंह की पार्थिव देह को लेकर अमौसी एयरपोर्ट पहुंचे। वहां पर राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने दिवंगत नेता कल्याण सिंह को श्रद्धासुमन अर्पित किया। इस अवसर पर कल्याण सिंह के सांसद पुत्र राजवीर सिंह तथा उनकी पत्नी भी थीं।

कल्याण सिंह की पार्थिव देह का अंतिम दर्शन करने भाजपा प्रदेश मुख्यालय में भी बड़ी संख्या में भाजपा के विधायक, मंत्री तथा कार्यकर्ता एकत्र थे। यहां पर कल्याण सिंह की पार्थिव देह तो तिरंगे के साथ भाजपा के ध्वज में भी लपेटा गया। यहां पर उनकी पार्थिव देह को सेना की गाड़ी में रखा गया, जहां से गाड़ी को लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट रवाना किया गया। इस दौरान चारों तरफ लोग नारे लगा रहे थे, 'कल्याण सिंह अमर रहें'।

विधानसभा में प्रदेश सरकार के मंत्रियों, विधानसभा के कर्मचारी-अधिकारियों ने अपने पूर्व नेता सदन को श्रद्धांजलि अर्पित की। भाजपा प्रदेश मुख्यालय में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सहित तमाम पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने अपने लोकप्रिय नेता को अंतिम विदाई दी।

इससे पहले, आरएसएस के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले, विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित, विधान परिषद सभापति मानवेंद्र सिंह, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और डॉ. दिनेश शर्मा ने भी उनकी देह पर पुष्पचक्र और पुष्पांजलि अर्पित कर दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की।

प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की इच्छा रविवार को भाजपा प्रदेश मुख्यालय में पूरी हो गई। राजधानी लखनऊ में करीब पांच दशक से अधिक समय तक राजनीतिक सफर पूरा करने के बाद चिरनिद्रा में लीन कल्याण सिंह जब लखनऊ से अंतिम विदाई ले रहे थे तब उनकी देह पर भाजपा का झंडा था।

रविवार को पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में जब प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और महामंत्री संगठन सुनील बंसल उनकी देह पर झंडा लपेट रहे थे, तब बाबूजी के वह कथन याद कर कई कार्यकर्ताओं की आंखें नम हो गईं।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री तथा पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह की पार्थिव देह का अंतिम दर्शन करने के बाद उनको श्रद्धांजलि दी। कल्याण सिंह को श्रद्धांजलि देने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कल्याण सिंह ने भारतीय जनता पार्टी तथा भारतीय जन संघ को एक विचार देने के साथ ही साथ देश के उज्ज्वल भविष्य के लिए खुद को समर्पित किया। कल्याण सिंह जी भारत के कोने-कोने में विश्वास का नाम बन गए थे।

0Comments