नौकरियों की प्रत्येक श्रेणी में दिव्यांगों के कोटे को कैबिनेट की मंजूरी

नौकरियों की प्रत्येक श्रेणी में दिव्यांगों के कोटे को कैबिनेट की मंजूरी

कैबिनेट ने प्रदेश सरकार की जनसंख्या नीति को अपनी मंजूरी दे दी। इसके अलावा भी दिव्यांगो समेत अन्य योजनाओं और परियोजनाओं पर अपनी मुहर लगा दी है। कैबिनेट ने प्रदेश की सरकारी नौकरियों में दिव्यांगजनों को समूह 'क' 'ख' 'ग' एवं 'घ' में चार प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण सुनिश्चित करने के लिए दिव्यांगजन के आरक्षण से संबंधित प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। कैबिनेट ने चिन्हांकन के लिए भविष्य में संशोधन करने का अधिकार मुख्यमंत्री को प्रतिनिधानित करने के प्रस्ताव को भी स्वीकृति दी है।

विकलांगजन (समान अवसर, अधिकार संरक्षण एवं पूर्ण भागीदारी) अधिनियम, 1995 में 07 प्रकार की दिव्यांगताएं परिभाषित थीं। इसी क्रम में राजकीय सेवाओं में दिव्यांगजन की श्रेणी क्रमशः दृष्टिहीनता या कम दृष्टि, श्रवण ह्रास एवं चलन क्रिया सम्बन्धी दिव्यांगता या प्रमस्तिष्कीय अंगघात को तीन प्रतिशत का क्षैतिज आरक्षण उपलब्ध था।

हर ग्राम पंचायत भवन का होगा अपना भवन, 1.20 लाख युवाओं को मिलेगा रोजगार

कैबिनेट ने निर्णय लिया है कि अब हर ग्राम पंचायत का अपना भवन होगा और इसमें ग्राम प्रधान का कार्यालय होगा जिसमें इण्टरनेट सुविधा युक्त कम्प्यूटर, स्कैनर आदि की भी व्यवस्था की जाएगी। भवन निर्माण के बाद एक पंचायत सहायक और कंप्यूटर ऑपरेटर की नियुक्ति की जाएगी, इससे करीब एक लाख 20 हजार युवाओं को रोजगार मिलेगा। यूपी में 58189 ग्राम पंचायतें हैं और इसमें 33500 ग्राम पंचायतों में भवन बने हैं लेकिन अव्यवस्थित हैं। 

अन्त्योदय कार्ड धारक परिवारों को मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में शामिल किया गया

कैबिनेट ने उत्तर प्रदेश राज्य के ऐसे अन्त्योदय कार्डधारक परिवार जो प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना अथवा मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में से किसी भी योजना से आच्छादित नहीं हैं और जिनकी अनुमानित संख्या 40 लाख है, को मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में शामिल किये जाने के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान कर दी है।

मेरठ में स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की स्थापना के लिए जमीन स्वीकृत

ग्राम सलावा तहसील सरधना, मेरठ में उपलब्ध रकबा 23.747 हेक्टेयर भूमि, जो सिंचाई विभाग के स्वामित्व की वन संरक्षित भूमि पर खेल विवि की स्थापना के लिए किए जाने के प्रस्ताव पर कैबिनेट ने 25 जनवरी, 2021 को अनुमोदन प्रदान किया गया था। 

अयोध्या, मथुरा की कई सड़क परियोजनाओं को मंजूरी

उत्तर प्रदेश कैबिनेट ने अयोध्या- अकबरपुर-बसखारी मार्ग के प्रस्तावित गोसाईगंज बाजार बाईपास के निर्माण/नवनिर्माण के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान कर दी है। अयोध्या- अकबरपुर-बसखारी मार्ग का फोरलेन में चौड़ीकरण किया जा रहा है। इस मार्ग पर स्थित अयोध्या के गोसाईगंज बाजार की घनी आबादी एवं कैरिज-वे की चौड़ाई कम होने के कारण उक्त मार्ग से गुजरने वाले वाहनों को अक्सर जाम की समस्या का सामना करना पड़ता है। इसलिए गोसाईगंज बाजार बाईपास का निर्माण कार्य कराया जाना प्रस्तावित है। उक्त प्रस्तावित बाईपास बहराइच- अयोध्या-अकबरपुर मार्ग से निकलकर गोसाईगंज भीटी मार्ग होते हुए पुनः बहराइच-अयोध्या-आजमगढ़ मार्ग पर मिलेगा। इसके बन जाने से बहराइच-अयोध्या-आजमगढ़ मार्ग के स्वीकृत फोर लेन मार्ग से गुजरने वाले भारी वाहन चार लेन बाईपास से गुजरेंगे।

0Comments