होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

मुख्यमंत्री योगी ने Covid में दिवंगत पत्रकारों के परिजनों को दी 10 लाख की सहायता

मुख्यमंत्री योगी ने Covid में दिवंगत पत्रकारों के परिजनों को दी 10 लाख की सहायता

लखनऊ | उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कोरोना संक्रमित होकर दिवंगत हुए पत्रकारों के परिजनों परिजनों को रुपये 10-10 लाख की सहायता राशि दी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार हर उस परिवार के साथ खड़ी है, जिसने इस आपातकाल में अपनों को खोया है। 


शनिवार को लोक भवन सभागार में आयोजित भावपूर्ण कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी ने दिवंगत मीडियाकर्मियों के परिजनों को सहायता राशि का चेक सौंपा। इस विशेष कार्यक्रम में नेशनल ब्रॉडकास्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित रहे। 


मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि हम सबके लिए यह एक ऐसा क्षण है जब मीडिया जगह से जुड़े हुए उन सभी दिवंगत आत्माओं के प्रति जिन्होंने कोरोना कालखंड में समाज के लिए अपनी लेखनी को चलाते-चलाते अपने प्राणों की आहुति दी है, उन सबके प्रति हम अपनी संवेदना व्यक्त कर सकें, श्रद्धांजलि व्यक्त कर सकें और परिवारजनों के प्रति एक संबल बन सकें।


योगी ने कहा कि हम सब जानते हैं कि पिछले 15-16 महीने से पूरा देश, पूरी दुनिया इस सदी की सबसे बड़ी महामारी से जूझ रही है, हर तबका इस बीमारी से प्रभावित हुआ है। कोरोना के चरम के समय हर आदमी भयभीत था, हर कोई एक अ²श्य आशंका से ग्रस्त था। ऐसे दौर में भी मीडियाकर्मी अपने कार्य में लगे रहे। लोकतंत्र के सजग प्रहरी के रूप में मीडिया का काम ही ऐसा है कि उन्हें हर समय आवागमन करना होता है। लेकिन न उनके पास पीपीई किट थे, न ग्लब्स न मास्क और हर समय सैनिटाइजर हो यह जरूरी नहीं, लेकिन हमारे मीडियाकर्मी अपने कर्मपथ पर डटे रहे। खुद की चिंता न करते हुए समाज को जागरूक करते रहे। सरकार को सुधार के लिए इंगित किया। 


सीएम ने कहा, जब पहली लहर को हमने एक प्रकार से नियंत्रित कर दिया, तभी वैक्सीनेशन का कार्यक्रम भी शुरू हुआ। तब भी मीडिया के पास कोई सुरक्षा कवच नहीं था, ऐसे में राज्य सरकार ने पहले लखनऊ और नोएडा और फिर पूरे प्रदेश में पत्रकार गणों को टीका-कवर उपलब्ध कराने का काम शुरू किया। मीडियाकर्मियों के वैक्सीनेशन का सुझाव देने के लिए सीएम ने नेशनल ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा को धन्यवाद भी दिया। 


उन्होंने बताया कि अब तक केवल लखनऊ और नोएडा केंद्रों पर 25 हजार मीडियाकर्मियों और उनके परिजनों को वैक्सीन दी गई है। 


नेशनल ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष रजत शर्मा ने कहा जिस समय कोरोना की दूसरी लहर आई और एक-एक कर हमारे पत्रकार साथी होम आइसोलेशन में जाने लगे तब एनबीए की मीटिंग में ये फैसला हुआ कि पत्रकार साथियों को जल्द से जल्द से वैक्सीन दिलाई जाई। मैंने कई मुख्यमंत्रियों से बात की। किसी ने कहा आप वैक्सीन दिलवा देंगे तो हम लगवा देंगे। किसी ने कहा लेकिन एक मुख्यमंत्री ऐसे थे जिनको रविवार को फोन किया और बताया कि हमारे पत्रकार साथी पब्लिक के बीच जाते हैं, उनका जीवन खतरे में है। मुख्यमंत्री ने बात भी पूरी नहीं होने दी और कहा कि आप उनकी चिंता मत कीजिए हम उनको वैक्सीन दिलवाएंगे। उन्होंने खुद पहल करके नोएडा में वैक्सीनेशन के लिए कैंप लगाया और 10 हजार पत्रकारों और उनके परिवार वालों को फ्री वैक्सीन मिली। इसके लिए योगी का एनबीए की ओर से आभार ज्ञापित है।


0Comments