होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

प्रेमी जोड़े को मिली एक ही गोत्र में शादी करने की सजा, शव बरामद

प्रेमी जोड़े को मिली एक ही गोत्र में शादी करने की सजा, शव बरामद

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के शाहजहांपुर (Shahjahapur) से ऑनर किलिंग (Honor Killing) की एक घटना सामने आई है। यहां आशीष नाम के एक लड़के को बंटी नाम की युवती से प्यार हुआ था। लेकिन दिक्कत बस इस बात की थी कि दोनों एक ही गोत्र से थे इसलिए इनका परिवार इस रिश्ते के खिलाफ था।

आशीष और बंटी के बीच अफेयर चार साल तक चला और दो साल पहले दोनों ने शादी कर ली। बीते शुक्रवार की सुबह इनकी लाश बरामद हुई है। 

आशीष सिंह (25) और बंटी (22) की शादी 2019 में हुई, जिसके बाद आशीष ने घर छोड़ नोएडा चला गया। हालांकि बंटी से मिलने के लिए वह घर आता रहता था।

आशीष गुरुवार को भी बंटी से मिलने के इरादे से गांव पहुंचा था। अगली सुबह नौगवां नरोत्तम गांव में घर के पास उसकी खून से सनी लाश बरामद हुई। वहीं बंटी का शव घर में बिस्तर पर मिला। दोनों की मौत सीने में चाकू घोंपने की वजह से हुई है। इस सनसनीखेज हत्या के बाद इलाके में तनाव का माहौल है। बता दें कि हत्या का आरोप लड़की के परिजन पर लगा है। 

आशीष के पिता सुखपाल ने बंटी के पिता कृष्णपाल और 4 रिश्तेदारों पर हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस ने बंटी के पिता, दो भाइयों, गांव के प्रधान और दूर के एक रिश्तेदार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर लिया है। बंटी के दोनों भाई फरार हैं। 

एक रिपोर्ट के मुताबिक एसएसपी एस.आनंद ने बताया है, 'हमने आशीष के पॉकेट से एक खाली कारतूस और एक गोली बरामद की है। लेकिन लाश के पास कोई भी पिस्टल नहीं मिली। लड़के के पिता की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है। वहीं, लड़की के परिजन के अनुसार बड़े भाई पिछले 5 दिनों से बाहर गए हुए हैं। हम सभी एंगल से इस केस को खंगाल रहे हैं।'

बता दें कि उत्तर भारत के कई इलाकों में एक ही गोत्र में शादियां नहीं की जाती हैं। इसी सिलसिले में पिछले कुछ सालों में कई प्रेमी जोड़ों की हत्या हो चुकी है।

0Comments