होम > शिक्षा

सरकारी कॉलेज में एडमिशन के लिए कैंडिडेट्स को करना पड़ेगा टॉप स्कोर

सरकारी कॉलेज में एडमिशन के लिए कैंडिडेट्स को करना पड़ेगा टॉप स्कोर

सरकारी कॉलेज में एडमिशन के लिए कैंडिडेट्स को करना पड़ेगा टॉप स्कोर। कॉउंसलिंग से पहले ही इन कैंडिडेट्स की लिमिटेड सीट्स भर जाती है। मेडिकल एडमिशन एग्जिक्‍यूटिव आयुषी ने बताया है की केटेगरी वाइज सारे बच्चों की कितनी स्कोर होनी चाहिए और सरकारी कॉलेज मिल पायेगा या नहीं। 7 सितम्बर को NEET UG 2022 का रिजल्ट घोषित कर दिया गया था। जिसमे 9 लाख से ज्यादा बच्चे क्वालीफाई किये हैं। पास हुए बच्चों को अब कौन्सेल्लिंग का इंतज़ार है। राजस्‍थान की तनिष्‍का 720 में से 715 नंबर के साथ टॉपर बनी है। इसके साथ ही अनारक्षित कैटेगरी के लिए इस वर्ष कट-ऑफ 715-117 रहा है और आरक्षित कैटेगरी के लिए कट-ऑफ 116-93 रहा है। 

यदि जनरल  कैटेगरी के बच्चों को सरकारी कॉलेज में एडमिशन चाहिए तो उनके 620 मार्क्स होने चाहिए। स्‍टेट कोटा की सीटों पर 590 तक के स्‍कोर वाले जनरल कैंडिडेट्स सरकारी सीट पर एडमिशन ले पाएंगे। SC/ST केटेगरी के बच्चों को एडमिशन के लिए 450 से अधिक अंक लाने होंगे। स्‍टेट कोटा की सीटों के लिए अलग अलग राज्‍य में काउंसलिंग होंगी।