होम > सेहत और स्वास्थ्य

हाथ-पैर में काट रही हैं चीटियां

हाथ-पैर में काट रही हैं चीटियां

कई बार रात में सोते समय अचानक नींद खुल जाती है और आपको लगता है कि हाथ-पैर पर चीटिंयां चल रही हैं। मेडिकली भाषा में इसे टिंगलिंग (झनझनाहट) कहते हैं। दरअसल, कुछ कारण ऐसे होते है जिसके चलते  शरीर में झनझनाहट और शरीर में सुन्नता पैदा हो जाती है। आईये बताते है ये कौन से कारण की वजह से होती है अगर आपको ऐसा महसूस हो रहा जैसे मानो पैरों पर चीटियों का झुंड चल रहा है। फिर जब आप उठकर देखते हैं तो आपको लगता है कि पैरों पर कोई चींटियां नहीं हैं। लेकिन आप इन बातो को इगनोर न करे इसके चलते आपको भारी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

दरअसल, इस तरह की झुनझुनी का कारण एक ही जगह पर लंबे समय तक बैठे रहना, नसों का दबना, एक ही तरफ देर तक लेटे रहना आदि कारण हो सकते हैं। दरअसल, हाथ−पैरों में झनझनाहट और सुन्न होने का कारण कई वजह से हो सकता है। जिन्हें जानकर और उनका इलाज करके इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। 

 इसके कुछ लक्षण इस प्रकार जिससे आप पता लगा सकते है की आपको क्या परेशानी है

1. डायबिटीज - जिन लोगो को डायबिटीज है उन लोगो के हाथ पैर सुन्न पड़ना या झुनझुनी आना सामान्य बात है। 

2. अधिक मात्रा मे दवाइयों का सेवन करना - अगर आप कैंसर (कीमोथेरेपी), एचआईवी या एड्स, हाई ब्लडप्रेशर, बुखार जैसी दवाइयों का सेवन करते है तो इससे भी हाथ पैर सुन्न पड़ना या झुनझुनी होती है।

और कई कारण हो सकते है तो इससे नजरअंदाज न करे "स्वस्थ रहे सुखी रहे "