होम > सेहत और स्वास्थ्य

कोल्ड ड्रिंक और चिप्स जैसे भोजन मेमोरी के लिए हानि का कारण हो सकते है

कोल्ड ड्रिंक और चिप्स जैसे भोजन मेमोरी के लिए हानि का कारण हो सकते है

आज के समय में कुछ चीजों को खाने से तुरंत हमारे स्वास्थ पर असर होता है जैसे चिप्स, कुकीज़, नमकीन, कोल्ड ड्रिंक, आदि। कुछ न्यूरोलॉजिस्ट के अनुसार यह सब चीजें हमारे दिमाग पर सीधे प्रभाव डालती है। ऐसे प्रसंस्कृत भोजन को खाने के बाद आपकी मेमोरी को हानि हो सकती है और मनोभ्रंश का खतरा भी अधिक होता है। 


कुछ लोगो का मानना है कि अल्ट्रा-प्रोसेस्ड भोजन मनोभ्रंश के बढ़ते जोखिम से जुड़े हुए हैं, और यह भी पाया गया कि उन्हें स्वस्थ विकल्पों के साथ बदलने से मनोभ्रंश का खतरा कम हो सकता है। अतिरिक्त अल्ट्रा-प्रोसेस्ड भोजन चीनी, फैट, और नमक में उच्च होते हैं और इनमे फाइबर और प्रोटीन कम होता है जैसे नमकीन, आइसक्रीम, शीतल पेय, मीठा स्नैक्स, सॉसेज, टमाटर, दही, डीप-फ्राइड चिकन, और बेक्ड बीन्स शामिल हैं।


अल्ट्रा-प्रोसेस्ड भोजन का अधिक सेवन करना मनुष्य के शरीर के लिए बिलकुल भी ठीक नहीं होता है क्योंकि यह वजन को बढ़ाता है, ब्लड प्रेशर, डॉयबिटीज़ जैसी कई और भी बीमारी को पैदा कर सकता है।


डिमेंशिया का खतरा


अध्ययन के अनुसार 518 लोगों को मनोभ्रंश का निदान किया गया था। कुछ लोग सोचते है कि उन्होंने पिछले दिन ऐसा क्या खाया और पिया था जिससे उनके शरीर के स्वस्थ को हानि हो गई। यह देखा है कि कितने प्रतिशत लोग रोजाना अल्ट्रा-प्रोसेस्ड फूड खा रहे है। मनुष्य को अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए एक संतुलित और स्वस्थ आहार लेना जरुरी है।


यहाँ अत्यधिक अल्ट्रा प्रोसेस्ड भोजन के दुष्प्रभाव दिए गए हैं:


- अल्ट्रा प्रोसेस्ड भोजन जैसे नमकीन, चिप्स और कोल्ड ड्रिंक से तेजी से वजन और मोटापा बढ़ता है।

- जंक फूड का अधिक सेवन ब्लड प्रेशर तो बढ़ा सकता है।

- अल्ट्रा प्रोसेस्ड भोजन अक्सर डॉयबिटीज़ को बढ़ावा देते हैं।

- खराब कोलेस्ट्रॉल के लेवल को बढ़ा सकता है।

- यह हमारे मूड पर भी नेगेटिव प्रभाव डालता है जो अवसाद ( depression) का कारण बन सकता है।


किसी भी चीज़ को फॉलो करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर ले। BS