होम > सेहत और स्वास्थ्य

पैर हिलाने से भी होता है हार्ट अटैक का खतरा

पैर हिलाने से भी होता है हार्ट अटैक का खतरा

आज हम आपको एक आनोखी बात बताने वाले है। क्या आपको ये पता हैं। या फिर आप ने कही सुना हैं, कि किसी को पैर हिलाने से भी हार्ट अटैक आ गया हैं। आप को भी सुनकर ये कुछ अजीब लगेगा। लेकिन ये सच है। अगर आप बैठे बैठे पैर हिला रहे तो आपको हार्ट अटैक के संकेत मिल सकते हैं। तो आइये आज हम इसी के बारे बात करते हैं कि पैर हिलाने से हार्ट अटैक के संकेत कैसे मिलते हैं।

अक्सर  कहा जाता हैं कि जब हम लोग खली बैठे या लेटे हुए होते हैं। तो हम लोगो की पैर हिलाने की आदत होती है। पैर हिलाने की आदत बच्चे ,जवान ,बूढ़े सब में होती हैं। अक्सर बच्चों को पैर हिलाते देख कर आप उनको टोक देते हैं, और पैर ना हिलाने की सलाह देते हैं।  कहते हैं कि पैर हिलाने से हमारे शरिर पर इसका बहुत बुरा असर होता हैं। पैर हिलाने से हार्ट अटैक के चांसेस बढ़ जाते हैं। ये रेस्टलेस सिंड्रोम के लक्षण हो सकते हैं। इसका कारण शरीर में आयरन की कमी है। ज्यादातर 35 साल से ज्यादा उम्र के व्यक्तियों को ये समस्या होती है। ये आयरन की कमी के कारण होता है। इसके अलावा किडनी, पार्किंसंस से पीड़ित मरीजों व गर्भवती महिलाओं में डिलिवरी के अंतिम दिनों में हॉर्मोनल बदलाव के कारण भी हो सकता है। तो सबसे पहले हमें अपने शरीर से आयरन की कमी को दूर करना होगा। उसके लिए हम लोगों को हरी सब्जियों पालक, चुकंदर,फल आदि का सेवन ज्यादा मात्रा में करना चाहिए।