होम > सेहत और स्वास्थ्य

तत्काल बदलिए लेटने की आदत

तत्काल बदलिए लेटने की आदत

आप सभी जानते है कि जब कोई थका होता हैं। तो वह किसी भी पोजीसन में लेट जाता हैं,और तुरंत नींद लेने लगता हैं। लेकिन क्या किसी भी पोजीसन में लेटना ठीक या गलत । अगर आप भी पेट के बल लेटना पसंद करते हैं, और इसी पोजिशन में सोते भी हैं। कई लोगों को उल्टा होकर सोने की आदत होती है। इनका मानना होता है, कि इन्हें इस तरह लेटने पर ही अच्छी और गहरी नींद आती है। जबकि ऐसा करने से इनके शरीर पर कई तरह से नकारात्मक असर पड़ रहा होता है।

कहते हैं। सोने के समय आपकी सही पोजीशन होना सबसे ज्यादा जरूरी है। इतना ही नहीं पेट के बल सोने से कब्ज, अपच और पेट दर्द से संबंधित समस्या भी हो सकती है।  इसलिए हमें सीधे या करवट लेकर सोना चाहिए। छोटे बच्चों को उल्टा नहीं सोना चाहिए, क्योंकि इससे उनकी हाइट पर असर पड़ता है। इसके उलट अगर बच्चा सीधा सोता है।  तो उसका शारीरिक और मानसिक विकास तेजी से होता है, और हाइट भी बढ़ती है। जब हम पेट के बल सोते हैं और तकिए पर सिर रखते हैं।  तो हमारी गर्दन नीचे की तरफ मुड़ जाती है। इससे मस्तिष्क में होने वाला ब्लड सर्कुलेशन नकारात्मक रूप से प्रभावित होता है। सोते वक्त लंबे समय तक गलत शेप में रहने और अतिरिक्त दबाव झेलने के कारण, एक समय बाद कमर में दर्द की समस्या शुरू हो जाती है।

यह दर्द कमर के किसी भी हिस्से में हो सकता है। जिन लोगों को पेट में कीडे़ होने की समस्या रहती है। वे अक्सर पेट के बल सोते हैं, और सोते समय उनके मुंह से लार भी टपकता है। अक्सर इस सलाइवा के निशान इनके होंठ की साइड में बना होता है। या फिर इनके तकिए पर गीलापन महसूस होता है।