होम > सेहत और स्वास्थ्य

सिगरेट पीने के नुकसान मेधज न्यूज़

 सिगरेट पीने के नुकसान मेधज न्यूज़

सिगरेट पीना आजकल लोगो में  आम बात है। हलांकि कुछ बुजुर्ग लोग भी  इसका शिकार हैं। धूम्रपान को भी एक सामाजिक बुराई के रूप में देखा जाता है। ज्यादातर जगहों पर धूम्रपान को निषेध किया जाता है. सिगरेट या बीड़ी दोनों ही नुकसान पहुँचाती है इसके धुएं में सबसे हानिकारक रसायनों में से कुछ निकोटीन, टार, कार्बन मोनोऑक्साइड, हाइड्रोजन साइनाइड, फॉर्मलाडीहाइड, आर्सेनिक, अमोनिया, सीसा, बेंजीन, ब्यूटेन, कैडमियम, हेक्सामाइन, टोल्यूनि आदि हैं. ये रसायन धूम्रपान करने वालों और उनके आसपास रहने वालों के लिए हानिकारक होती है। 

सिगरेट पीने के नुकसान

1.फेफड़ों का कैंसर -सिगरेट पीने से फेफड़े के कैंसर की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है, एक रिपोर्ट के अनुसार तम्बाकू धूम्रपान और फेफड़े के कैंसर के खतरे के बीच एक मजबूत संबंध है. गैर-धूम्रपान करने वालो पर भी फेफड़ों के कैंसर के विकास का जोखिम है. धूम्रपान करने वाली महिलाएँ को पुरुषों के मुकाबले फेफड़ों के कैंसर का ख़तरा अधिक है। 

2. उम्र बढ़ाने की प्रक्रिया करे तेज

धूम्रपान आपकी त्वचा पर समय से पहले झुर्रियाँ, त्वचा की सूजन, फाइन लाइन और एज स्पॉट्स को बढ़ाने में अपना योगदान देता है. सिगरेट में निकोटीन रक्त वाहिकाओं को कम करने का कारण बनता है, जिसका अर्थ है आपकी त्वचा की बाहरी परतों में रक्त प्रवाह कम होना, कम रक्त प्रवाह के साथ, आपकी त्वचा को पर्याप्त ऑक्सीजन और महत्वपूर्ण पोषक तत्व नहीं मिलते हैं। 

3.हृदय रोग का खतरा

सिगरेट में निकोटीन और अन्य जहरीले रसायन हृदय रोग और स्ट्रोक के जोखिम को बढ़ा देते हैं. इसकी वजह से स्ट्रोक पैरालिसिस, आंशिक अंधापन, बोलने की शक्ति और यहां तक कि मौत का कारण भी हो सकती है. धूम्रपान ना करने वालों की तुलना में धूम्रपान करने वालों में स्ट्रोक होने की संभावना तीन गुना अधिक होती है।