होम > सेहत और स्वास्थ्य

व्यायाम का महत्व

व्यायाम का महत्व

आइये जानते है आज हमारा शरीर कैसे स्वस्थ्य रहे और हमे व्यायाम क्यों करना चाहिए व्यायाम वह गतिविधि है जो शरीर को स्वस्थ रखने के साथ व्यक्ति के समग्र स्वास्थ्य को भी बढाती है। यह कई अलग अलग कारणों के लिए किया जाता है, जिनमे शामिल हैं मांसपेशियों को मजबूत बनाना, हृदय प्रणाली को सुदृढ़ बनाना, एथलेटिक कौशल बढाना, वजन घटाना या फिर सिर्फ आनंद के लिए हम रोजाना व्यायाम करते है। मेटाबॉलिज्म को तेज रखने में नियमित व्यायाम उपयोगी साबित होता है। नियमित रूप से व्यायाम करने से मेटाबॉलिज्म बेहतर होने के साथ ही कैलरी भी तेजी से बर्न होती है और वजन नियंत्रण में रहता है।

व्यायाम का अर्थ है – शरीर को इस तरह तानना सिकोड़ना कि वह सही स्थिति में कार्य कर सके । जिस प्रकार अच्छे भोजन से शरीर को पोषण मिलता है, उसी प्रकार से व्यायाम से शरीर लंबे समय तक उचित दशा में बना रहता है । व्यायाम से शरीर को सुगठित, तंदुरुस्त और फुर्तीला बनाया जा सकता है । आजकल अधिकतर काम मशीनों की सहायता से होते हैं ।उदाहरणों में तेज चलना, जॉगिंग, तैराकी और बाइकिंग शामिल हैं। शक्ति, या प्रतिरोध प्रशिक्षण, व्यायाम आपकी मांसपेशियों को मजबूत बनाते हैं। कुछ उदाहरण वजन उठाना और प्रतिरोध का उपयोग कर रहे हैं इससे अच्छा होगा आप सरल  माध्यम से रोजाना व्यायाम करे और स्वस्थ्य रहे। इसके अलावा हमारे शरीर को व्यायाम के बीच पर्याप्त विश्राम की आवश्यकता होती है। संक्षेप में कहा जा सकता है कि स्वास्थ्य में सुधार के लिए निरंतरता अत्यावश्यक है, यानी व्यायाम और विश्राम के बीच उचित संतुलन की आवश्यकता होती  है।

 संस्कृत में एक श्लोक कहा गया है जो इस प्रकार है
 
 व्यायामात् लभते स्वास्थ्यं दीर्घायुष्यं बलं सुखं।। आरोग्यं परमं भाग्यं स्वास्थ्यं सर्वार्थसाधनम् ॥
 अर्थ- व्यायाम से स्वास्थ्य, लम्बी आयु, बल और सुख की प्राप्ति होती है। निरोगी होना परम भाग्य है और स्वास्थ्य से अन्य सभी कार्य सिद्ध होते हैं।