होम > सेहत और स्वास्थ्य

भारत बायोटेक : कोवैक्सीन टीका लेने के बाद पैरासिटामोल की सिफारिश नहीं होती

भारत बायोटेक : कोवैक्सीन टीका लेने के बाद पैरासिटामोल की सिफारिश नहीं होती


हैदराबाद | वैक्सीन बनाने वाली कंपनी भारत बायोटेक ने बुधवार को स्पष्ट किया कि कोवैक्सीन का टीका लगवाने के बाद किशोरों के लिए पैरासिटामोल या दर्द निवारक दवाओं की सिफारिश नहीं की जाती है। हैदराबाद स्थित कंपनी ने कहा, हमें फीडबैक मिला है कि कुछ टीकाकरण केंद्र बच्चों के लिए कोवैक्सीन के साथ 3 पैरासिटामोल 500 मिलीग्राम टैबलेट लेने की सिफारिश कर रहे हैं। टीकाकरण के बाद किसी भी पैरासिटामोल या दर्द निवारक की सिफारिश नहीं की जाती है।


फर्म ने 30,000 व्यक्तियों पर किए अपने नैदानिक परीक्षणों का हवाला देते हुए कहा, लगभग 10-20 प्रतिशत व्यक्तियों ने साइड इफेक्ट की सूचना दी। इनमें से अधिकतर हल्के होते हैं, 1-2 दिनों के भीतर हल हो जाते हैं, और दवा की आवश्यकता नहीं होती है। चिकित्सक से परामर्श करने के बाद ही दवा की सिफारिश की जाती है।


पैरासिटामोल की सिफारिश कुछ अन्य कोविड-19 टीकों के साथ की गई थी और कोवैक्सिन के लिए अनुशंसित नहीं है। 


देश भर में 15-18 साल के बच्चों के लिए कोविड-19 का टीकाकरण 3 जनवरी से शुरू हुआ। बच्चों को कोवैक्सीन की पहली खुराक दी जा रही है।


पहले तीन दिनों के दौरान 1.06 करोड़ से अधिक बच्चों को टीका लगा।