होम > सेहत और स्वास्थ्य

जानें इलायची कैसे ब्लड प्रेशर कंट्रोल और कैंसर जैसी बीमारियों में फायदेमंद है

जानें इलायची कैसे ब्लड प्रेशर कंट्रोल और कैंसर जैसी बीमारियों में फायदेमंद है

इलायची बेहतरीन माउथफ्रेशनर है जिसका इस्तेमाल खाना पकाने से लेकर कई तरह की मिठाईयों में होता है। औषधीय गुणों से भरपूर इलायची एक ऐसा मसाला है जिससे कई बीमारियों का उपचार किया जाता है। इलायची में कार्बोहाइड्रेट, डाइटरी फाइबर, कैल्शियम, पोटैशियम, मैग्नीशियम, आयरन और फॉस्फोरस मुख्य रुप से मौजूद होता है जो अच्छी सेहत के लिए उपयोगी है। इलायची में एंटी इंफेलेमेंटरी गुण मौजूद होते हैं जो मुंह का कैंसर, त्वचा के कैंसर से लड़ने में मददगार होते हैं। बढ़ते वजन को कंट्रोल करना चाहते हैं तो इलायची का सेवन करें। इलायची को गर्म पानी के साथ खाएंगे तो रात को अच्छी नींद आएगी और खर्राटे की समस्या भी दूर होगी। 


आइए जानते हैं इलाइची सेहत के लिए किस तरह फायदेमंद हैं।


ब्लड प्रेशर कंट्रोल : एंटीऑक्सीडेंट्स गुणों से भरपूर इलाइची बार-बार पेशाब आने की समस्या का इलाज करती है। इसमें मौजूद पोटैशियम और मैग्नीशियम जैसे खनिज पदार्थ ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में मदद करते हैं।


कैंसर से लड़ने वाला गुण : इलाइची में कैंसर से लड़ने वाले गुण भी मौजूद होते हैं। इलाइची के पाउडर का सेवन करने से शरीर के अंदर कुछ एंजाइम बनते हैं जो कैंसर कोशिकाओं को खत्म करने में मददगार है। इलाइची में ट्यूमर को खत्म करने के गुण भी मौजूद होते हैं।


खांसी और गले की खराश से आराम : मौसम बदलने पर अक्सर कमजोर इम्युनिटी वाले लोग सर्दी-खांसी की चपेट में आ जाते हैं। सर्दी होने पर गले में खराश होने लगती है। इलायची का सेवन खांसी और गले की खराश से आराम दिलाता है। खांसी सर्दी-जुकाम दूर करने की सबसे प्रमुख आयुर्वेदिक औषधि सितोपलादि चूर्ण में भी मौजूद होती है।


एग्जाइटी को दूर करती है : इलायची का इस्तेमाल डिप्रेशन से निजात पाने में भी किया जाता है। डिप्रेशन दूर करने के लिए इलायची को पानी में उबालकर पीना चाहिए। अगर एंग्जाइटी ज्यादा है तो दिन में 2-3 बार इलायची का सेवन करना फायदेमंद रहता है।