होम > सेहत और स्वास्थ्य

कोविड रिकवरी के बाद लोगों में बढ़ रह रहा है वज़न, तो करे ये काम

कोविड रिकवरी के बाद लोगों में बढ़ रह रहा है वज़न, तो करे ये काम

कोविड-19 महामारी कई तरह से हम सभी के लिए मुश्किल रही है। एक लगातार संक्रमित हो जाने का डर सभी को सता रहा था, तो दूसरी तरफ घर पर लगातार रहने से वज़न बढ़ने के साथ मानसिक स्वास्थ्य भी बिगड़ रहा था। महामारी की शुरुआत के बाद से 60 प्रतिशत से अधिक वयस्कों ने अपने शरीर के वज़न में बदलाव देखा है। जिसके पीछे अहम वजह है शारीरिक गतिविधि का कम होना और खाना ज़रूरत से ज़्यादा खाना। पिछले डेढ़ साल से लोगों को घर बैठकर ज़्यादा खाने और कम से कम फिज़िकल एक्टीविटि की आदत पड़ गई है।


वहीं, जो लोग कोविड के शिकार हुए वे रिकवरी के बाद वज़न बढ़ने की समस्या से जूझ रहे हैं। हाल ही में एक्ट्रेस रुबीना दिलायक ने भी कोविड के बाद आ रहीं कई दिक्कतों को शेयर किया था, जिनमें से एक वज़न बढ़ना भी है। अगर आप भी कोविड रिकवरी के बाद वज़न बढ़ जाने से परेशान हैं, तो ये 5 टिप्स आपके काम आएंगी।


पानी अच्छे से पिएं


बारिश और सर्दी के मौसम में हम पानी कम पीने लगते हैं। जिसकी वजह से शरीर में पानी की कमी होने लगती है, जिसे आप भूख समझ लेते हैं और पानी की जगह खाना खा लेते हैं। पानी कितना पी रहे हैं उसका ध्यान रखें। खाना खा लेने के बाद या फिर मील्स के बीच आपको भूख लगती है, तो एक गिलास पानी पी लें। आप फलों का जूस, नारियल पानी भी पी सकते हैं।सोच समझकर खाएं


हेल्दी वज़न को बनाए रखना या फिर वज़न घटाने के लिए सबसे ज़रूरी है कि आप जो खाएं वो सोच समझकर खाएं। फिर चाहे आप हेल्दी खाना ही क्यों न खा रहे हों, इसे ज़रूरत से ज़्यादा न ठूस लें। जब आप अपनी रोज़ाना की डाइट ले रहे होते हैं, तो याद रखें कि आपकी प्लेट में जो सब चीज़ें हैं उन सभी में कुछ न कुछ कैलोरी है, जिसमें ड्रिंक्स भी शामिल हैं। अपनी उम्र, वज़न और फिज़िकल एक्टिविटी के हिसाब से रोज़ की कैलोरी फिक्स कर लें, फिर दिन भर का खाना या स्नैक्स उसी हिसाब से बांट लें। दिन भर में सीमित कैलोरी का सेवन ही करें।


खाने में ज़्यादा फाइबर जोड़ें


जब हम खाली बैठे होते हैं, जो हमें ज़्यादा भूख लगती है। इसलिए लोग वीकडे की तुलना छुट्टी के दिन ज़्यादा खा लेते हैं। तो अपनी भूख पर काबू पाने के लिए फाइबर का सेवन ज़्यादा करें। फाइबर से भरपूर फल, सब्ज़ियां और अनाज खाएं, जिससे आपको लंबे समय तक भूख नहीं लगेगी। फाइबर पाचन को दुरुस्त रखा है, आंत के बैक्टीरिया के बढ़ाता है और कब्ज़ से बचाता है। लेकिन फाइबर का सेवन भी सीमित ही रखें

समय पर खाना खाएं


जब आप बेवक्त या देर से खाते हैं, तो आप ज़्यादा खा लेते हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आपको भूख लगी होती है, तो आप तेज़ी से खा लेते हैं और इस बात का ध्यान नहीं रख पाते कि कितना खा लिया है। इसलिए खाना का समय तय करें और उसी समय रोज़ खाना खाएं।


एक्टिविटी बढ़ाएं


बोरियत की वजह से भी लोग ज़्यादा खा लेते हैं। जब हमारे पास कुछ करने के लिए नहीं होता, तो हमें अनहेल्दी और वसा युक्त खाना खाने का दिल चाहता है। इससे बचे रहने के लिए हमेशा खुद को व्यस्त रखें। एक्सरसाइज़ करें, काम पर जाएं या अपना पसंदीदा काम करें, ताकि आप बिज़ी रहें। इससे आपका ध्यान खाने से हटेगा, मूड बेहतर होगा और तनाव का स्तर कम होगा।