होम > सेहत और स्वास्थ्य

चिलगोजा खाने के फायदे

चिलगोजा खाने के फायदे

आइये जानते आज चिलगोजा का महत्व अगर आप दिन तक रोज 5 चिलगोजे खा लेते हैं तो आपकी स्किन पर ग्लोकरने लगेगी साथ ही साथ  खून की कमी दूर हो जाएगी और माइंड शार्प हो जाएगा। आपको यह भी बता दे की  इनके अलावा भी चिलगोजे के दूसरे फायदे भी हैं। बच्चों को 2 से 3 चिलगोजे ही खाना चाहिए है।चिलगोजे में विटमिन बी और विटमिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है।जो बच्चों के लिए अत्यंत ही फायदेमंद होता है,चिलगोजा मोनोसैच्युरेटेड फैट से भरा होता है और इनके सेवन से भूख भी बढ़ती है। इसमें भरपूर मात्रा में आयरन मौजूद होता है, जिससे शरीर में हीमॉग्लोबिन बढ़ता है । चिलगोजे में अनसैच्युरेटेड फैट होता है, जो कलेस्ट्रॉल घटाने में मदद करता है।

आइये  जानते हैं चिलगोजा खाने के फायदे -चिलगोजा की तासीर गर्म होती है,इसके लिए आप 5-10 ग्राम चिलगोजा की गिरी पीस लें और इसमें शहद मिलाकर खा लें, चिलगोजा पिस्ता, बादाम की तरह ही एक ड्राई फ्रूट है। आयुर्वेद के अनुसार, चिलगोजा एक बहुगुणी औषधि है। चिलगोजा के सेवन से एक-दो नहीं बल्कि कई बीमारियों का इलाज किया जा सकता है। 

चिलगोजा भारत के उत्तर में हिमालय के पर्वतीय क्षेत्रों में 1800-3350 मीटर की ऊंचाई वाले इलाके में फैले जंगलों में चीड़ के पेड़ पर लगता है। किन्नौर जिले की जांगराम घाटी में देश में चिलगोजा के पेड़ों की सघनता सबसे अधिक है।

चिलगोजा को विभन्न नाम से जाना जाता है जो इस प्रकार है चिलगोजा को अंग्रेजी में पाइन नट कहा जाता है। दुनियाभर में चिलगोजा की कई प्रजातियां पाई जाती हैं।चिलगोजा' पाइन या चीड़ (Pine) के बीज से प्राप्त होता है। प्राइनस गोरार्डियाना (Pinus gorardiana) चिलगोजा का जैव वैज्ञानिक नाम है तथा इसमें प्रोटीन की अधिकता होती है। चिलगोजा को जिम्नोस्पर्म का मेवा भी कहा जाता है।