होम > सेहत और स्वास्थ्य

दिन में नींद आना या अधिक सोना बीमारी नहीं, स्टडी में हुआ खुलासा

दिन में नींद आना या अधिक सोना बीमारी नहीं, स्टडी में हुआ खुलासा

आमतौर पर कहा जाता है कि अगर व्यक्ति आठ घंटे से अधिक समय तक सोता है तो वो बीमार है। मगर अब एक नई स्टडी में सामने आया कि ये सच नहीं है। नई स्टडी में सामने आया कि जो लोग अधिक सोते हैं या रात में अच्छी नींद लेने के बाद भी आलस से भरे रहते हैं, उनका शरीर अधिक नींद की मांग करता है।


ऐसे में ये उनकी नींद की कमी होने का उनके लाइफस्टाइल से कोई संबंध नहीं होता है। इसके पीछे स्वास्थ्य कारण भी नहीं होते है। ये स्टडी मैसाचुसेट्स जनरल हॉस्पिटल की ओर से की गई है। इस स्टडी में 4,52,633 लोगों को शामिल किया गया। इसमें सामने आया कि कुछ लोगों को सामान्य की अपेक्षा अधिक नींद आती है। 


रिसर्च में इन लोगों से पूछा गया कि वो कितने घंटे की नींद लेते है। इस स्टडी में दो लोग शामिल थे, कुछ लोग रातभर ठीक से नहीं सो पाते थे और सुबह भी जल्दी उठते थे।


वहीं कुछ लोग ऐसे थे जो रातभर अच्छी नींद लेने के बाद भी देर तक सोते थे। रिसर्च से पता चला कि अधिक सोने वाले लोगों का बायोलॉजिकल क्लॉक अधिक नींद की मांग करता है। इसके पीछे लाइफस्टाइल या आदत नहीं होती है।