होम > सेहत और स्वास्थ्य

ओमिक्रॉन के बाद आ सकते है और भी कई वेरिएंट, राहत की उम्मीद नहीं

ओमिक्रॉन के बाद आ सकते है और भी कई वेरिएंट, राहत की उम्मीद नहीं

ओमिक्रॉन वेरिएंट के नए मामलों के कारण देश भर में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में इजाफा हो रहा है। नए वेरिएंट ओमिक्रॉन और कोरोना वायरस के मद्देनजर कई वैज्ञानिकों ने कहा कि इससे जल्दी राहत मिलने की उम्मीद नहीं है।


हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि कोरोना के ओमिक्रॉन वेरिएंट के बाद कई नए वेरिएंट भी पैदा हो सकता है। 


इस संबंध में वैज्ञानिकों का कहना है कि ओमिक्रॉन वेरिएंट के तेजी से फैलने से पता चलता है कि भविष्य में इस खतरनाक वायरस के कई नए वेरिएंट भी सामने आ सकते है। एक्सपर्ट्स का भी कहना है कि तेजी से संक्रमण फैलने पर इसके म्यूटेंट में बदलाव होते है। कोरोना का ओमिक्रॉन वेरिएंट उस समय में तेजी से फैल रहा है जब दुनिया को इसके खिलाफ मजबूती मिली है।


कोरोना संक्रमण आने वाले समय में अपना स्वरूप लगातार बदलने वाला है। ये भी कहा गया है कि ये अपना स्वरूप बदलकर कौन सा आकार लेगा ये किसी को जानकारी नहीं है। इसकी भी गारंटी नहीं है कि ओमिक्रॉन से संक्रमित लोग मामूली तौर पर बीमार होंगे। 


इस संबंध में बोस्टन विश्वविद्यालय के संक्रामक रोग महामारी विज्ञानी लियोनार्डो मार्टिनेज का कहना है कि ओमिक्रॉन वेरिएंट अधिक तेजी से फैलता है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस का नया वेरिएंट नवंबर 2021 में सामने आया था। उसके बाद से इसने दुनिया में तबाही मचा दी है। 


रिसर्च में सामने आया कि कोरोना का ओमिक्रॉन वेरिएंट डेल्टा वेरिएंट से अधिक संक्रामक है। इस वेरिएंट से वो लोग भी संक्रमण का शिकार हो सकते हैं जो पहले से कोरोना का शिकार हो चुके है। ओमिक्रॉन से वैक्सीन ले चुके लोग भी संक्रमित होते जा रहे है।