होम > सेहत और स्वास्थ्य

भारत में बढ़ रहा ओमिक्रॉन का खतरा, 3000 के पार हुए मामले

भारत में बढ़ रहा ओमिक्रॉन का खतरा, 3000 के पार हुए मामले

नई दिल्ली| भारत में ओमिक्रॉन वेरिएंट के मामले भी लगातार बढ़ते जा रहे है। बीते 24 घंटों में ओमिक्रॉन वेरिएंट के 377 नए मामले दर्ज किए है, जिससे राष्ट्रीय स्तर पर मामले तीन हजार के पार पहुंच गए है। भारत में ओमिक्रॉन वेरिएंट के मामलों की संख्या 3007 हो गई है। इसमें कहा गया है कि देश भर में अब तक कुल 1,199 लोग नए संक्रमण से रिकवर हो चुके हैं।


स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, ओमिक्रॉन संक्रमण 27 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में फैल गया है। हालांकि, महाराष्ट्र और दिल्ली सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य बने हुए हैं।


पिछले 24 घंटों में 79 नए मामलों का पता चलने के साथ, महाराष्ट्र 876 की संख्या के साथ सबसे बुरी तरह प्रभावित रहा। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, उनमें से 381 मरीजों को छुट्टी दे दी गई है। राष्ट्रीय राजधानी में 465 ओमिक्रॉन मामले सामने आए हैं, जिनमें से 57 ठीक हो गए हैं।


दिल्ली के बाद कर्नाटक में पिछले 24 घंटों में 99 मामले सामने आए हैं, जिससे कुल संख्या 333 हो गई है। राजस्थान ने अब तक इस प्रकार के 291 मामलों का पता लगाया है।


अन्य राज्यों में, केरल में 50 नए ओमिक्रॉन मामले दर्ज किए गए, जिससे कुल मामलों की संख्या 284 हो गई है। गुजरात और तमिलनाडु में क्रमश: 204 और 121 मामले दर्ज किए गए।


43 नए मामलों के साथ हरियाणा में ओमिक्रॉन मामलों की संख्या 114 हो गई है, जबकि तेलंगाना में मामलों की संख्या 107 तक पहुंच गई है।


ओडिशा और उत्तर प्रदेश क्रमश: 60 और 31 मामले है। आंध्र प्रदेश में भी 28 मामले है, जबकि पश्चिम बंगाल में मामले बढ़कर 27 हो गए है। गोवा में अब तक 19 मामलों के बाद ओमिक्रॉन के 14 नए मामले सामने आए हैं।


मध्य प्रदेश (9) और उत्तराखंड (8) में एकल अंकों में ओमाइक्रोन मामले की गिनती जारी है। हालांकि, असम के ओमिक्रॉन मामले गुरुवार को 2 से बढ़कर 9 हो गए हैं। मेघालय में अब तक 4 ओमिक्रॉन मामले हैं। चंडीगढ़, जम्मू-कश्मीर और अंडमान निकोबार द्वीप समूह में अब तक 3-3 मामले सामने आए हैं।


पुडुचेरी और पंजाब में अब तक दो-दो ओमिक्रॉन मामले सामने आए हैं। इस बीच, हिमाचल प्रदेश, लद्दाख, और मणिपुर में इस प्रकार के एक-एक मामले है। सूची में नया राज्य छत्तीसगढ़ भी जुड़ गया है, जहां ओमिक्रॉन का एक मामला सामने आया है।