होम > सेहत और स्वास्थ्य

ज्यादा वर्कआउट से पड़ सकता है दिल का दौरा, डॉक्टरों ने दी चेतावनी

ज्यादा वर्कआउट से पड़ सकता है दिल का दौरा, डॉक्टरों ने दी चेतावनी

आज के जमाने में हमारी पहले के लोगों जितनी फिटनेस नहीं है क्योंकि पहले सारे काम मैनुअली होती थे और अब बस एक बटन दबाते ही सारा का सारा काम मिनटों में हो जाता है। एक जगह से दूसरे जगह तक जाने के लिए भी हम पर्सनल व्हीकल का अधिक इस्तेमाल करते हैं। ऐसे में अपनी सेहत को बरकरार रखने के लिए हमें शारीरिक कसरत के लिए अलग से वक्त निकालना पड़​ता है। 

कसरत का नाम आते ही हमारे दिमाग में सबसे पहले जिम का ख्याल आता है, जहां काम से लौटने के बाद अधिकतर नौजवान घंटों बिता देते हैं। बेशक शरीर को फिट रखना बहुत ही जरूरी है, लेकिन जैसा कि कहावत है — 'अति सर्वत्र वर्जयेत।' यानि कि किसी भी चीज की अधिकता सही नहीं। ठीक इसी तरह से जिम में घंटों बिताना भी फायदे की जगह आपको नुकसान पहुंचा सकता है। 

जिम में घंटों हाई इंटेन्स वर्कआउट को लेकर कई शोध किए गए हैं। इनमें इस बात के सबूत मिले हैं कि उच्च तीव्रता वाले व्यायाम (high intensity exercise) करने वाले लोगों में अचानक हृदय गति रुकने (sudden cardiac arrest) की संभावना अधिक रहती है। यह हार्ट राइम डिसऑर्डर के जोखिम को भी बढ़ा सकता है, खासकर उन लोगों में जो हाइपरट्रॉफिक कार्डियोमायोपैथी या कोरोनरी हार्ट डिसीज के मरीज हैं।

गौरतलब है आकर्षक व्यक्तित्व के धनी अभिनेता सिद्धार्थ शुक्ला (Siddharth Shukla) भी जिम में घंटों बिताया करते थे। वह जिम में 3—4 घंटे तक रूककर कसरत करते थे, जबकि डॉक्टर ने उन्हें ऐसा करने से मना किया था। 

यूएस नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, अत्यधिक कसरत से अचानक कार्डियक अरेस्ट (SCA) या अचानक कार्डियक डेथ (SCD) का खतरा बढ़ सकता है।

ऐसे में शरीर को फिट रखने के लिए अपनी सेहत और क्षमता के हिसाब से ही एक्सरसाइज करें। इसके लिए डॉक्टर्स, फिटनेस एक्सपर्ट और ट्रेनर की सलाह ली जा सकती है। 






0Comments