होम > विशेष खबर

31 जुलाई : आइये जानते है आज के दिन की कुछ महत्वपूर्ण बातो के बारे में

31 जुलाई : आइये जानते है आज के दिन की कुछ महत्वपूर्ण बातो के बारे में

आज के दिन जिन्हें शंकर के नाम से जाना जाता है, प्रसिद्ध भारतीय कार्टूनिस्ट के. शंकर पिल्लई का जन्म 1902 में हुआ था। भारत के प्रसिद्ध विद्वान, भाषा-वैज्ञानिक और गणितज्ञ दामोदर धर्मानंद कोसांबी का जन्म आज ही के दिन 1907 में हुआ था। आज ही के दिन स्वतंत्रता सेनानी अमर शहीद ऊधम सिंह का निधन 1940 में हुआ था। 

आज के दिन की कुछ खास बाते 

1913 – बाल्कन राज्य बुखारेस्ट में एक युद्धविराम पर हस्ताक्षर किये। 
1917 – प्रथम विश्व युद्ध: पासचेन्डेले की लड़ाई पश्चिम फ्लैंडर्स, बेल्जियम में यपेरेस के पास शुरू हुई थी। 
1919 – जर्मन राष्ट्रीय असेंबली वीमर संविधान को गोद लिया जो 14 अगस्त को लागू हुआ। 
1932 – एनएसडीएपी (नाजी पार्टी) ने जर्मन चुनावों में 38% से अधिक वोट जीते थे। 
1938 – बुल्गारिया ग्रीस और बाल्कन अंटांटी (तुर्की, रोमानिया, युगोस्लाविया) के अन्य राज्यों के साथ एक गैर-आक्रामकता संधि पर हस्ताक्षर किये। 
1938 – पुरातत्वविदों ने पर्सेपोलिस में राजा दारायस द ग्रेट से उत्कीर्ण सोने और चांदी की प्लेटों की खोज की थी। 
1945 – विची फ्रांस के पूर्व नेता पियरे लवल ने ऑस्ट्रिया में सहयोगी सैनिकों को आत्मसमर्पण कर दिया था। 
1971 – अपोलो प्रोग्राम: अपोलो 15 अंतरिक्ष यात्री चंद्र रोवर में सवारी करने वाले पहले व्यक्ति बन गया था। 
1973 – एक डेल्टा एयर लाइन्स जेटलाइनर, उड़ान डीएल 723 दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिसमे 89 की मौत हो गई थी। 
1975 – द ट्रबलल्स: उत्तरी आयरलैंड में एक बंटे हुए अर्धसैनिक हमले के दौरान एक लोकप्रिय कैबरे बैंड और दो बंदूकधारियों के तीन सदस्य मारे गए थे। 
1992 – जॉर्जिया राष्ट्र संयुक्त राष्ट्र में शामिल हो गया था। 
1992 – थाई एयरवेज इंटरनेशनल फ्लाइट 311 काठमांडू के उत्तर में एक पहाड़ में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। 
2007 – ऑपरेशन बैनर, उत्तरी आयरलैंड में ब्रिटिश सेना की उपस्थिति, और अब तक का सबसे लंबा चलने वाला ब्रिटिश सेना अभियान समाप्त हो गया था। 
2010 – ब्रिटेन के साउथेम्पटन शहर समिति ने अपनी महिला कर्मचारियों को मिनी स्कर्ट पहन कर काम पर नहीं आने के निर्देश दिए थे। 
2010 – बिलियर्ड प्रशिक्षक सुभाष अग्रवाल को द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिए चुना गया। 
2012 – माइकल फेल्प्स ने ओलंपिक में जीते सबसे ज्यादा पदक के लिए 1964 में लार्सा लैटिनिना द्वारा रिकॉर्ड सेट तोड़ दिया था।