होम > व्यापार और अर्थव्यवस्था

Ola ला रहा है इलेक्ट्रिक कार, कम दाम और बेहतर ड्राइविंग रेंज के साथ आम लोगों के बजट में होगी फिट! जानें डिटेल

देश की प्रमुख कैब प्रदाता कंपनी Ola ने हाल ही में अपने पहले इलेक्ट्रिक स्कूटर को लॉन्च करने की घोषणा की थी। कंपनी ने इस स्कूटर की तस्वीरों को भी अपने आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किया है। लेकिन अब खबर आ रही है कि कंपनी भारतीय बाजार के लिए इलेक्ट्रिक कार लॉन्च करने की तैयारी कर रही है, जिसे बहुत जल्द ही पेश किया जाएगा।  मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कंपनी अपनी इस इलेक्ट्रिक कार पर काम करना शुरू कर चुकी है। हालांकि अभी इस इलेक्ट्रिक वाहन के बारे में कंपनी की तरफ से आधिकारिक तौर पर कोई जानकारी साझा नहीं की गई है और न ही इस कार के डिटेल्स का खुलासा किया गया है। ऐसी खबर है कि कंपनी जल्द ही इलेक्ट्रिक वाहन सेग्मेंट में अपनी पकड़ बनाने की सोच रहा है क्योंकि इस सेग्मेंट में बहत कम प्लेयर ही मौजूद हैं और ये कंपनी के लिए बेहतर मौका भी है।  ऑटोकार में छपी रिपोर्ट के अनुसार Ola की ये इलेक्ट्रिक कार बॉर्न-इलेक्ट्रिक स्केटबोर्ड प्लेटफॉर्म पर तैयार होगी। इसे फ्यूचरेस्टिक डिजाइन के साथ एडवांस फीचर्स से लैस किया जाएगा। कंपनी बेंगलुरु में एक ग्लोबल डिजाइन सेंटर सेटअप करने की योजना बना रही है, जहां पर कार के डिजाइन निर्माण के साथ ही कलर, मैटेरियल और फीनिश पर भी काम किया जाएगा।  क्या होगी कीमत: ऐसी भी खबरें हैं कि ये ये एक कॉम्पैक्ट कार होगी, जो कि औसत ड्राइविंग रेंज देगी जो कि रोजमर्रा की जरूरतों के लिहाज से बेहतर होगी। वहीं इसकी कीमत भी कम से कम रखने की कोशिश की जाएगी ताकि ये आम लोगों की पहुंच तक हो। ओला ने पहले ही अपने इलेक्ट्रिक पैसेंजर व्हीकल प्रोजेक्ट के लिए टाटा मोटर्स के कुछ डिजाइनरों को हायर किया है।  चार्जिंग: भारतीय बाजार में इलेक्ट्रिक वाहनों के भविष्य के लिए मजबूत चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर एक सबसे बड़ी चुनौती है। हालांकि ओला ने हाल ही में घोषणा की है कि वो देश में दुनिया की सबसे बड़ी हाईपर चार्जिंग नेटवर्क को स्थापित करेगी, जो कि खासकर कंपनी की आने वाली इलेक्ट्रिक स्कूटरों के लिए होगी। ऐसी उम्मीद है कि कंपनी इस फेसिलिटी का प्रयोग अपनी इस कार के लिए भी कर सकती है। इसके अलावा कार के साथ घरेलू चार्जिंग डिवाइस भी दी जाएगी।  ओला की इलेक्ट्रिक पैसेंजर व्हीकल के निर्माण योजनाओं का खुलासा होना बाकी है। हालांकि, कंपनी अपने इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर डिवीजन के कारखाने के निर्माण के लिए तकरीबन 2,400 करोड़ रुपये का निवेश कर रही है। कंपनी का ये शानदार प्लांट तमिलनाडु में स्थापित किया जा रहा है, जहां पर कंस्ट्रक्शन भी शुरू किया जा चुका है। इस प्लांट में हर साल 20 लाख दोपहिया वाहनों का निर्माण किया जा सकेगा।   

0Comments