होम > राज्य > मध्यप्रदेश

मध्यप्रदेश में अब प्राइमरी और मिडिल स्कूल खोलने की तैयारी

मध्यप्रदेश में अब प्राइमरी और मिडिल स्कूल खोलने की तैयारी

भोपाल| मध्य प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था जल्द ही पूरी तरह से पटरी पर आ जाएगी। सरकार हाई और हायर सेकेंडरी स्कूलों को चालू करने के बाद अप प्राइमरी और मिडिल स्कूलों को शुरू करने पर जोर दे रही है। 


कोरोना वायरस संक्रमण काल के दौरान जहां स्कूलों को बंद करने के निर्देश दिए गए थे। अब इन स्कूलों को दोबारा खोला जा रहा है। सरकार ने प्राइमरी और मिडिल स्कूल भी खोलने की तैयारी पूरी कर ली है। 


हालांकि स्वास्थ्य विभाग सहित अन्य विभागों की रिपोर्ट के बाद ही प्राइमरी व मिडिल स्कूल खुल सकेंगे। राज्य में कोरोना का प्रभाव लगातार कम होता जा रहा है और यही कारण है कि तमाम गतिविधियां सुचारू रूप से चल रही हैं। 9वीं से लेकर 12वीं तक के विद्यालय भी तय दिशानिर्देशों के मुताबिक खुल रहे हैं।


राज्य के स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार का कहना है कि स्कूल शिक्षा विभाग ने प्राइमरी और मिडिल स्कूल खोलने की तैयारी पूरी कर ली है मगर कोरोना की स्थिति को देखते हुए अभी स्वास्थ्य विभाग सहित अन्य विभागों की रिपोर्ट का इंतजार है।


स्कूल शिक्षा मंत्री ने आगे कहा कि, यह बात सही है कि मध्य प्रदेश में कोरोना के आंकड़े कम हैं, मगर केरल जैसे राज्यों में मरीजों की संख्या बढ़ रही है। अभी कोरोना गया नहीं है इस बात को ध्यान में रखना है लेकिन बच्चों की पढ़ाई का भी ध्यान रखना है।


स्कूल शिक्षा मंत्री परमार ने आगे कहा, वर्तमान में 9वीं से लेकर 12वीं तक के स्कूल खुल रहे हैं। पहले हमने 11वीं और 12वीं के स्कूल तय छात्र संख्या के मुताबिक खोले, उसके बाद 9वीं और 10वीं के स्कूल खोले हैं।


आने वाले समय में जब भी स्कूल खोलने का फैसला होगा तो पहले छठवीं से आठवीं तक के खोले जाएंगे और उसके बाद पहली से पांचवी तक की कक्षाएं शुरू होंगी। स्कूल शिक्षा विभाग ने स्कूल खोलने की पूरी तैयारी कर ली है लेकिन यह तभी खुल सकेंगे, जब स्वास्थ्य विभाग सहित अन्य विभागों की रिपोर्ट हमें हासिल हो जाएंगी