अब यूपी में ब्राह्मणों को लुभाने की तैयारी में जुटी मायावती

अब यूपी में ब्राह्मणों को लुभाने की तैयारी में जुटी मायावती

लखनऊ | उत्तर प्रदेश में सत्ता के गलियारों में वापसी के सपने सजाये अब बहुजन समाज पार्टी (Bahujan Samaj Party) ब्राह्मणों को अपने पाले में करना चाहती है। बसपा अध्यक्ष मायावती (BSP president Mayawati) ने रविवार को कहा कि ब्राह्मण भाजपा को वोट नहीं देंगे और उनकी पार्टी अगले सप्ताह अयोध्या से समुदाय को 'जागृत' करने के लिए एक अभियान शुरू करेगी।

मीडियाकर्मियों से बात करते हुए, मायावती ने कहा कि उन्हें पूरा भरोसा है कि ब्राह्मण समुदाय भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से गुमराह नहीं होगा और आगामी चुनावों में उनकी पार्टी को वोट देगा।

उन्होंने कहा, "बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा के नेतृत्व में 23 जुलाई को अयोध्या से एक बार फिर ब्राह्मण समुदाय को जगाने के लिए अभियान चलाया जाएगा। ब्राह्मणों को आश्वासन दिया जाएगा कि बसपा शासन में उनके हित सुरक्षित रहेंगे।"

बसपा ने 2007 में ब्राह्मणों के समर्थन से यूपी में बहुमत की सरकार बनाई थी। मायावती ने किसानों के मुद्दे पर नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सभी राजनीतिक दलों को एक साथ आना चाहिए और केंद्र को जवाबदेह ठहराना चाहिए।

उन्होंने कहा, "तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के प्रति केंद्र का उदासीन रवैया बेहद दुखद है। यह आवश्यक है कि संसद में केंद्र पर हर तरह का दबाव डाला जाए।"

मायावती ने कहा कि बसपा सांसद सोमवार से शुरू हो रहे संसद के मानसून सत्र के दौरान ईंधन और रसोई गैस की कीमतों में वृद्धि और कोविड टीकाकरण से संबंधित मुद्दों जैसे मुद्दों को उठाएंगे।

0Comments