ड्राइवरी लाइसेंस के लिए अब मेडिकल फिटनेस भी की जारी

ड्राइवरी लाइसेंस के लिए अब मेडिकल फिटनेस भी की जारी

सरकार ने डायवरिग लाइसेंस बनाने की प्रक्रिया में कई तरह के बदलाव करने जा रहा है। पहले जिलाकार्यालय से लाइसेंस बन जाता था और कुछ दिनों बाद कार्ड मिल जाता था लेकिन अब यह लाइसेंस आनलाइन के माध्यम से जाएगी। ड्राइविंग लाइसेंस के लिए 1 ए फार्म मेडिकल प्रमाण पत्र ऑनलाइन जारी किया जाएगा 

इसके लिए डॉक्टरों का सारथी एप 4.0 में पंजीयन कराना जरूरी कर दिया गया है। इससे पहले विभाग के अधिकारी जानकारी दी थी जिन की अंतिम तिथि 19 जुलाई निर्धारित की गई थी। अब मेडिकल प्रमाण पत्र मैन्युअल बनाया जाता था लेकिन अब ऑनलाइन ही मेडिकल सर्टिफिकेट स्वीकार किए जाएंगे। 

परिवहन विभाग के ड्राइविंग लाइसेंस में पारदर्शिता लाने एवं सरलीकरण के लिए लाइसेंस के फॉर्म 1ए मेडिकल प्रमाण पत्र जारी करने की प्रक्रिया को 24 मार्च से ऑनलाइन कर दिया है। इसके लिए जिले के जितने भी एमबीबीएस डॉक्टर हैं जो इस कार्य को करने के लिए इच्छुक हों तथा वह मेडिकल काउंसलिंग में रजिस्टर्ड हो उनकी जानकारी निर्धारित प्रारूप में मांगा गया है। प्रारूप में अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराने के बाद सारथी सॉफ्टवेयर 4.0 डॉक्टरों को लागिन आईडी प्रदान किया जाएगा किया जाएगा

 
ड्राइविंग लाइसेंस एवं वाहनों से जुड़े किसी भी तरह के काम के लिए आजादी से अब तक दलाली प्रथा चलते आ रही थी। लोग सरकारी प्रक्रिया के झंझट से उबरने के लिए आरटीओ एजेंटों को पूरा दस्तावेज दे देते थे लेकिन अब परिवहन विभाग सारे के सारे कार्य ऑनलाइन करने जा रहा है ऐसे में अब एजेंटों की रोजी- रोटी धीरे धीरे कम होते जा रही है अब जरूरतमंदों को सीधे दफ्तर में आकर अपना काम करना पड़ रहा है 

0Comments