मेदवेदेव ने जोकोविच को हराकर तोड़ा कैलेंडर स्लैम जीतने का सपना

मेदवेदेव ने जोकोविच को हराकर तोड़ा कैलेंडर स्लैम जीतने का सपना

विश्व के नंबर-2 खिलाड़ी रूस के डेनिल मेदवेदेव ने विश्व के नंबर-1 खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच को हराकर यहां हुए वर्ष के आखिरी ग्रैंड स्लैम यूएस ओपन में पुरुष एकल वर्ग का खिताब जीत लिया।    

मेदवेदेव ने फाइनल में जोकोविच को 6-4, 6-4, 6-4 से हराकर इतिहास रचते हुए अपना पहला बड़ा खिताब जीता। इस हार के साथ ही जोकोविच का कैलेंडर स्लैम पूरा करने का सपना अधुरा रह गया। 

जोकोविच ने इस सीजन में आॅस्ट्रेलियन ओपन, फ्रेंच ओपन और विबंलडन का खिताब जीता था और अगर वह यूएस ओपन को जीतने में सफल रहते तो वह 1969 में रोड लावेर के बाद कैलेंडर स्लैम पूरा करने वाले पहले टेनिस खिलाड़ी बन जाते। 

हालांकि, मेदवेदेव ने जोकोविच का यह सपना पूरा होने नहीं दिया और फाइनल में हराकर इस खिताब पर कब्जा जमाया। इस जीत के साथ ही मेदवेदेव येवगेनी काफेलनिकोव और मरात साफिन के बाद रूस के ऐसे तीसरे टेनिस खिलाड़ी बन गए हैं जिनके नाम ग्रैंड स्लैम जीतने की उपलब्धि है। 

जोकोविच स्विटजरलैंड के रोजर फेडरर और स्पेन के राफेल नडाल के 20 ग्रैंड स्लैम की बराबरी पर हैं। उनके पास यूएस ओपन को जीत रिकॉर्ड 21वां ग्रैंड स्लैम हासिल करने का मौका था जो उन्होंने इस हार के साथ ही गंवा दिया। 

जीत के बाद मेदवेदेव ने कहा, ‘‘आपको कभी पता नहीं चल सकता कि आप अपने करियर में कोई बड़ा खिताब जीत पाएंगे या नहीं। मुझे हमेशा से पता था कि मुझे ऐसा करने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ देना होगा।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘यह एहसास काफी सुखद है। यह मेरा पहला ग्रैंड स्लैम है। मुझे नहीं पता कि अगर मैं दूसरा या तीसरा ग्रैंड स्लैम जीतूंगा तो मुझे कैसा लगेगा। लेकिन यह मेरा पहला खिताब है तो मैं काफी खुश हूं। यह मेरे लिए काफी मायने रखता है।’’ 

मेदवेदेव दो साल पहले भी यूएस ओपन के फाइनल में पहुंचे थे और उन्हें नडाल के हाथों पांच सेटों तक चले मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा था। 

0Comments