होम > भारत

भारत ने एक दिन में कोरोना की ढाई करोड़ से अधिक खुराजक दी, विश्व में सबसे ज्यादा

भारत ने एक दिन में कोरोना की ढाई करोड़ से अधिक खुराजक दी, विश्व में सबसे ज्यादा

नई दिल्ली | देश में कोरोना के खिलाफ विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। 16 जनवरी को शुरू हुए इस अभियान ने कई रिकॉर्ड स्थापित किये हैं। अब शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर पूरे विश्व में एक दिन में सर्वाधिक टीकाकरण करने वाला भारत पहला देश बन गया है।  

शुक्रवार सुबह से लेकर रात तक तकरीबन 12 से 14 घंटों के भीतर देश में कोरोना के टीकों की ढाई करोड़ से अधिक खुराक दी गई है। इससे पहले स्वास्थ्यए मंत्री ने गुरुवार को ट्वीट केर देशवासियों से टीका लगवाकर मोदी को जन्मदिनका तोहफा देने का आग्रह किया था।  और देशवासियों से बढ़ चढ़ कर इस अभियान में हिस्सा लिया और एक विश्व रिकॉर्ड कायम किया। 

२ करोड़ से अधिक टीके लगाने के बाद स्वास्थय मंत्री ने एक बार फिर ट्वीट केर अपनी ख़ुशी जाहिर की और कहा कि, 'देश ने एक दिन में दो करोड़ टीकों का ऐतिहासिक आंकड़ा पार करते हुए एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है।' उन्होंने ट्वीट कर कहा, स्वास्थ्य कर्मियों और देशवासियों की ओर से प्रधानमंत्री को उनके जन्मदिन पर यह तोहफा है।' 

गौरतलब है की टीकाकरण अभियान की शुरआत में कुछ मुश्किलों के बाद से ये अभियान लगातार तेज़ होता जा रहा है।  देश को वैक्सीन की 10 करोड़ खुराक लगाने में 85 दिन का वक्त लगा था। 30 करोड़ से 40 करोड़ खुराक का सफर तय करने में 24 दिन और इसके बाद महज 20 दिन के अंदर ही भारत 50 करोड़ के निशान को पार केर गया था। 

अगर आंकड़ों की समक्ष की जाए तो हर घंटे लगभग 17.30 लाख लोगों को कोरोना के टीके लगाए गए।  फिलहाल देश में 1,09,686 टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। प्रधानमंत्री के जन्मदिन के अवसर पर बीजेपी ने ज्यादा से ज्यादा लोगों को टीकाकरण केंद्रों तक पहुंचाने का अभियान चलाया और अपने स्वयं सेवकों को भी इस काम में लगाया था। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर इस रिकॉर्ड के लिए देश को शुभकामनाएं दीं।

मोदी सरकार की पूरी मंशा है की टीकाकरण अभियान की रफ़्तार कायम राखी जाए और साल के अंत तक अधिक से अधिक जनसँख्या को कोरोना के टीके लगाए जा सकें। फिलहाल विशेषज्ञ का कहना है की इसी रफ़्तार के साथ जल्द ही वैक्सीनेशन का आंकड़ा 100 करोड़ के पार पहुंच जायेगा।  फिलहाल स्वास्थय यंत्रालय ने कहा है की  सितम्बर के अंत तक देश में कोविशील्ड की लगभग 20 करोड़ खुराक और कोवैक्सिन की 3.5 करोड़ मुहैया कराइ जाएगी ।

0Comments