केंद्र सरकार का बयान, दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई कोई मौत

केंद्र सरकार का बयान, दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई कोई मौत

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी ने सबसे अधिक परेशान किया। इस दौरान देखने में आया था कि ऑक्सीजन की कमी के कारण देशभर में हाहाकार मचा हुआ था। कई मामलों में ऑक्सीजन की कमी से कोरोना मरीजों की मौत की जानकारी भी सामने आई थी। मगर अब केंद्र सरकार ने राज्यसभा में बताया कि दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत नहीं हुई है।


दरअसल मंगलवार को कांग्रेस सांसद केसी वेणुगोपाल ने राज्यसभा में ऑक्सीजन की कमी और इससे होने वाली मौतों पर सवाल किया था। इस सवाल का जवाब देते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने सदन में बताया कि दूसरी लहर के दौरान किसी व्यक्ति की मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई है।


राज्यसभा में सरकार ने बताया कि कोरोना से होने वाली मौतों की जानकारी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को स्वास्थ्य मंत्रालय को देनी होती है। मगर किसी भी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश ने ऑक्सीजन की कमी के कारण मौत होने की जानकारी स्वास्थ्य मंत्रालय को नहीं दी है।


ऑक्सीजन की बढ़ी मांग


हालांकि सरकार ने ये माना की दूसरी लहर के दौरान मेडिकल ऑक्सीजन की मांग में बेहताशा बढ़ोतरी हुई थी। पहली लहर के दौरान जहां 3095 मीट्रिक टन मांग थी वहीं दूसरी लहर में ये बढ़कर मीट्रिक टन पहुंच गई थी। मांग में ऐसी बढ़ोतरी के बाद केंद्र ने राज्यों को ऑक्सीजन वितरण भी किया था।


0Comments