नर्स को मिला सम्मान, वार्ड में बाढ़ का पानी भर जाने के बावजूद करती रहीं ड्यूटी

नर्स को मिला सम्मान, वार्ड में बाढ़ का पानी भर जाने के बावजूद करती रहीं ड्यूटी

गुजरात के वडोदरा के सर सयाजीराव जनरल हॉस्पिटल की एक नर्स को फ्लोरेंस नाइटिंगेल अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा।


मीडिया से बात करते हुए अवॉर्ड के लिए नामित भानुमति घीवाला ने कहा, कोविड—19 के दौरान महिलाओं के प्रसव से संबंधित दायित्वों का भलीभांति पालन करने के मद्देनजर मुझे इस पुरस्कार से सम्मानित होने के लिए चुना गया है। इन जिम्मेदारियों में नवजात शिशुओं की डिलीवरी और साल 2019 में आई बाढ़ के दौरान काम करना शामिल रहा। इस दौरान अस्पताल में पानी भर गया था, लेकिन बावजूद इसके मैंने कोई भी छुट्टी नहीं ली।


भानुमति कोविड -19 पॉजिटिव गर्भवती महिलाओं की डिलीवरी के साथ-साथ नवजात शिशुओं की देखभाल भी करती रही हैं।


साल 2019 में जब अस्पताल के वार्डों में बाढ़ की वजह से पानी भर गया था, उस वक्त भी भानुमति ने स्त्री रोग विभाग और बाल रोग वार्ड में अपनी ड्यूटी निभाई है।


स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के तहत एक वैधानिक निकाय भारतीय नर्सिंग परिषद स्वास्थ्य कर्मियों के योगदान को मान्यता देने के लिए फ्लोरेंस नाइटिंगेल पुरस्कार प्रदान करती है।


0Comments