होम > शासन

21 व 22 सितम्बर को इंदिरा गाँधी प्रतिष्ठान में दो दिवसीय वाणिज्य उत्सव का आयोजन

21 व 22 सितम्बर को इंदिरा गाँधी प्रतिष्ठान में दो दिवसीय वाणिज्य उत्सव का आयोजन

आजादी की 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में मनाये जा रहे ‘‘आजादी का अमृत महोत्सव श्रृंखला’’ में 20 से 26 सितम्बर 2021 तक अखिल भारतीय वाणिज्य सप्ताह आयोजित किया जा रहा है। इस अवसर पर सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन विभाग उ0 प्र0 द्वारा  21 व 22 सितम्बर 2021 को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में इंदिरा गाँधी प्रतिष्ठान में दो दिवसीय वाणिज्य उत्सव का आयोजन किया जायेगा, जिसमें निर्यात से सम्बन्धित सम सामयिक व प्रासंगिक विषयों पर तकनीकी सत्रों का आयोजन व राज्य निर्यात पुरस्कारों का वितरण भी किया जायेगा।

यह जानकारी अपर मुख्य सचिव, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम डा0 नवनीत सहगल ने दी। उन्होंने बताया कि प्रथम दिवस 21 सितम्बर  को आयोजित कार्यक्रम में निर्यात प्रदर्शनी के उद्घाटन  के उपरांत विभिन्न तकनीकी सत्रो में निर्यात प्रोत्साहन में भारत सरकार, निर्यात संवर्धन परिषदों, लघु उद्योगों, लॉजिस्टिक्स, पूर्ति श्रृंखला की भूमिका, निर्यात भुगतान के तरीके व नियमावली आदि महत्वपूर्ण विषयो पर विस्तृत जानकारी प्रदान की जाएगी।  इन तकनीकी सत्रों में मुख्य वक्ता के रूप में उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव, निर्यात आयुक्त, संयुक्त सचिव, वाणिज्य विभाग भारत सरकार, अपर सचिव नीति आयोग, संयुक्त महानिदेशक विदेश व्यापार आदि सम्मिलित होगें।

डा0 नवनीत सहगल ने बताया कि द्वितीय दिवस 22 सितम्बर को प्रातः 10.30 से सायं 06.30 तक आयोजित तकनीकी सत्रों में उत्तर प्रदेश से निर्यात संवर्धन में राज्य सरकार द्वारा संचालित योजनाओं की भूमिका, निर्यात में सिडबी, ई.सी.जी.सी., कस्टम्स, वैश्विक पूर्ति श्रृंखला नवाचार, कंटेनर डिमांड, निर्यातकों हेतु वित्तपोषण विकल्प आदि महत्वपूर्ण विषयों पर संयुक्त आयुक्त निर्यात, संयुक्त महानिदेशक विदेश व्यापार, महाप्रबंधक सिडबी, ई.सी.जी.सी., ई.ई.पी.सी., कॉनकोर आदि के प्रतिनिधियों द्वारा महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की जाएगी। उन्होंने बताया कि सायं 06.30 बजे से आयोजित होने वाले राज्य निर्यात पुरस्कार वितरण समारोह में मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश योगी आदित्यनाथ के करकमलो से प्रदेश के निर्यात में उल्लेखनीय भूमिका निर्वहन करने वाले निर्यातकों  को पुरस्कृत किया जाएगा।

अपर मुख्य सचिव ने प्रदेश के सभी निर्यातको व उद्यमियों से अपील की है कि निर्यात कॉनक्लेव में प्रतिभाग करते हुए निर्यात के महत्वपूर्ण पहलुओं की विस्तृत जानकारी प्राप्त करने के साथ-साथ अपने महत्वपूर्ण सुझावों से अवगत कराये तथा प्रदेश के विकास में भागीदार बने। उन्होंने बताया कि इस संबंध में प्रत्येक जनपद के उपायुक्त उद्योग, जिला उद्योग प्रोत्साहन एवं उद्यमिता विकास केंद्र से विस्तृत जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

0Comments