प्रधानमंत्री मोदी 'क्वाड' लीडर्स समिट में भाग लेने के लिए जाएंगे अमेरिका

प्रधानमंत्री मोदी 'क्वाड' लीडर्स समिट में भाग लेने के लिए जाएंगे अमेरिका

नई दिल्ली | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) 24 सितंबर को वाशिंगटन डीसी में लीडर्स समिट ऑफ क्वाड्रिलेटरल फ्रेमवर्क (Summit of the Quadrilateral Framework) में ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन (Prime Minister of Australia Scott Morrison), जापान के प्रधानमंत्री योशीहिदे सुगा (Prime Minister of Japan Yoshihide Suga) )और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (US President Joe Biden)के साथ हिस्सा लेंगे। सभी नेता इस वर्ष 12 मार्च को अपने पहले आभासी शिखर सम्मेलन (Virtual summit ) के बाद से हुई प्रगति की समीक्षा करेंगे और साझा हित के क्षेत्रीय मुद्दों पर भी चर्चा करेंगे।

गौरतलब है कि ये सम्मेलन 24 सितंबर को होगा औऱ पहली बार क्वॉड (Quad summit) के चारों देशों के राष्ट्राध्यक्ष आमने-सामने बैठकर इस सम्मेलन में हिस्सा लेंगे।  इससे पहले कोरोना के कारन क्वॉड की सभी बैठकें वर्चुअल तरीके से हुई हैं। 

COVID-19 महामारी को रोकने (contain the COVID-19 pandemic) के अपने चल रहे प्रयासों के तहत, सभी राष्ट्राध्यक्ष 'क्वाड वैक्सीन' पहल (Quad Vaccine initiative) की समीक्षा करेंगे, जिसकी घोषणा इस साल मार्च में की गई थी। वे समकालीन वैश्विक मुद्दों (contemporary global issues) जैसे महत्वपूर्ण और उभरती प्रौद्योगिकियों (emerging technologies), कनेक्टिविटी और बुनियादी ढांचे (connectivity and infrastructure), साइबर सुरक्षा (cyber security), समुद्री सुरक्षा (maritime security), मानवीय सहायता या आपदा राहत (humanitarian assistance or disaster relief), जलवायु परिवर्तन और शिक्षा (climate change and education) पर भी विचारों का आदान-प्रदान करेंगे। 

इस सम्मेलन में एक महत्वपूर्ण बात यह भी है कि पहली बार बाइडेन से पीएम मोदी की आमने-सामने मुलाकात होगी। कोविड काल में पीएम मोदी का यह दूसरा विदेश दौरा है। 

ये सम्मेलन चार देशों के मजबूत गठजोड़ "क्वाड" नेताओं के बीच मुक्त संवाद और बातचीत के लिए एक मूल्यवान अवसर प्रदान करेगा।  ये संवाद सभी चार देशों के लिए महत्वाकांक्षी खुले और समावेशी इंडो-पैसिफिक क्षेत्र (open and inclusive Indo-Pacific region) को सुनिश्चित करने के उनके साझा दृष्टिकोण पर आधारित होगा। 

अपनी इस यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 सितंबर को न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा UNGA के 76वें सत्र (76th Session of the United Nations General Assembly) के उच्च-स्तरीय खंड की सामान्य बहस को भी संबोधित कर सकते हैं।  इस वर्ष की सामान्य बहस का विषय है कोविड-19 से उबरने की आशा के माध्यम से लचीलेपन का निर्माण, स्थायी रूप से पुनर्निर्माण, ग्रह की जरूरतों का जवाब देना, लोगों के अधिकारों का सम्मान करना और संयुक्त राष्ट्र को पुनर्जीवित करना।

0Comments