होम > मनोरंजन

प्रेम नाम है मेरा...प्रेम चोपड़ा! इनके विलेन बनने के पीछे एक बहुत ही दिलचस्प किस्सा ये है

प्रेम नाम है मेरा...प्रेम चोपड़ा! इनके विलेन बनने के पीछे एक बहुत ही दिलचस्प किस्सा ये है

नायक प्रेम चोपड़ा के फिल्मों में विलेन बनने के पीछे एक बहुत ही दिलचस्प किस्सा है। दरअसल, यह बात उन दिनों की है जब अभिनेता इंडस्ट्री में अपना एक अच्छा मुकाम बनाने के लिए गुजरते वक्त के साथ काफी संघर्ष कर रहे थे। और तो और इसी दौरान अभिनेता प्रेम चोपड़ा की मुलाकात काफी मशहूर और दिग्गज फिल्मकार महबूब खान से हुई। समय को देखते हुए महबूब खान ने अभिनेता प्रेम चोपड़ा को देखते ही उनसे यह वादा किया कि वह उन्हें फिल्मों में  मुख्य भूमिका का खास रोल देंगे, लेकिन अभिनेता प्रेम को इसके लिए अभी थोड़ा सा इंतजार भी करना पड़ेगा। तभी इसी बीच अभिनेता को फिल्म वो कौन थी में एक खास विलेन का रोल भी ऑफर हुआ, जिसे उन्होंने स्वीकार भी कर लिया।

आपको बता दें कि साल 1964 में आई उनकी यह फिल्म उस दौर की सबसे बड़ी हिट फिल्मों में से एक रही और तो और इतना ही नहीं फिल्म में पहली बार बतौर विलेन नजर आए अभिनेता प्रेम को लोगों ने भी काफी ज्यादा पसंद किया। इसी बीच में प्रेम एक बार फिर महबूब खान से भी मिले। इस समय अभिनेता से मिलते ही उन्होंने प्रेम को काफी डांटते हुए कहा कि उन्होंने सब कुछ खराब कर दिया है और तो और उन्होंने बाद में यह भी कहा कि फिल्म वो कौन थी में उन्होंने अपना विलेन का किरदार इतना बखूबी निभाया कि अब उन्हें इसी ही दिशा में आगे बढ़ना चाहिए। तो बस फिर क्या था इसके बाद प्रेम चोपड़ा ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और 400 से भी ज्यादा फिल्मों में अपने खास अभिनय से लोगों के बीच में अपनी खास पहचान बना ली। 

प्रेम चोपड़ा अपनी फिल्म शहीद, उपकार, पूरब और पश्चिम, दो रास्ते, कटी पतंग, दो अनजाने, जादू टोना, काला सोना, दोस्ताना, क्रांति, फूल बने अंगारे के लिए हमेशा जाने जाते है, और जाने जाते रहेंगे।