होम > शासन

राशन कार्ड धारकों को निःशुल्क वितरित किया जायेगा तीन माह का राशन

अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार द्वारा अवगत कराया गया है कि कोविड-19 से उत्पन्न परिस्थितियों के कारण गरीबों और जरूरतमंदों को तत्काल राहत पहुंचाने के लिए सभी राशन कार्ड धारकों को तीन माह (जून,जुलाई एवं अगस्त) का राशन निःशुल्क उपलब्ध कराए जाने एवं जिन पात्र व्यक्तियों के राशन कार्ड नहीं बने हैं अभियान चलाकर उनके राशन कार्ड बनाते हुए उन्हें तत्काल राशन उपलब्ध कराए जाने का निर्णय शासन द्वारा लिया गया है।  उन्होंने समस्त मंडलायुक्त एवं जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि सभी राशन कार्ड धारकों को निःशुल्क खाद्यान्न वितरण खाद एवं रसद विभाग को आवंटित विभागीय बजट से किया जाएगा। अतः सभी राशन कार्ड धारकों को खाद्य एवं रसद विभाग के पब्लिक  डिस्ट्रीब्यूशन सिस्टम के माध्यम से तीन माह जून, जुलाई एवं अगस्त-2021 का निःशुल्क राशन उपलब्ध कराने के साथ ही जिन पात्र व्यक्तियों के राशन कार्ड नहीं बने हैं उन्हें अभियान चलाकर राशन कार्ड बनवाते हुए उन्हें तत्काल राशन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।   रोज कमाकर खाने वाले परिवारों को मिलेगा 1000 रू0 प्रतिमाह भरण पोषण भत्ता प्रदेश में कोविड-19 से उत्पन्न परिस्थितियों के मद्देनजर शासन द्वारा रोज कमाकर खाने वालों को प्रति परिवार रू0 1000 प्रतिमाह दिये जाने का निर्णय लिया गया है। गरीबों और जरूरतमंदों को तत्काल राहत पहुंचाने के उद्देश्य से सभी राशन कार्ड धारकों को 03 माह का राशन निःशुल्क उपलब्ध कराया जायेगा। प्रतिमाह उपलब्ध करायी जाने वाली धनराशि निशुल्क राशन के अतिरिक्त होगी। राजस्व विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार राशन कार्ड धारकों को 03 माह का निशुल्क राशन और पंजीकृत श्रमिकों, अन्य श्रमिको, सभी पटरी-रेहड़ी दुकानदारों, रिक्शा व ई-रिक्शा चालकों, नाविकों, कुली, पल्लेदारों, नाई, धोबी, मोची, हलवाई आदि रोज कमाकर खाने वालों को रू0 1000 प्रतिमाह भरण-पोषण भत्ता प्रदान किया जायेगा। पात्र व्यक्तियों के चमन के लिए जिलों पर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिलास्तरीय कमेटी का गठन किया गया है। यह कमेटी जी0एस0टी0 की श्रेणी में न आने वाले परम्परागत रूप से कार्य करने वालों की पात्रता सुनिश्चित करेगी।

0Comments