उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर नियंत्रित, 34 जिलों में कोई सक्रिय केस नही

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर नियंत्रित, 34 जिलों में कोई सक्रिय केस नही

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर नियंत्रित है। बीते 24 घंटों में प्रदेश के 34 जिलों में कोविड का एक भी एक्टिव केस दर्ज नहीं किया गया। ट्रिपल टी की रणनीति के तहत कोरोना की पहली व दूसरी लहर पर काबू पाने वाले प्रदेश में जांच और वैक्‍सीनेशन का कार्य तेजी से चल रहा है। प्रदेश में औसतन हर दिन सवा दो लाख से ढाई लाख तक टेस्ट किए जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश में पॉजिटिविटी दर 0.01 फीसदी और रिकवरी रेट 98.7 फीसदी दर्ज किया गया।   

बीते 24 घंटों में 63 ज़िलों में संक्रमण का कोई भी नया मामला सामने नहीं आया। प्रदेश के केवल 12 जनपदों में ही संक्रमण के नए मरीज मिले हैं। बीते 24 घंटों में 02 लाख से अधिक हुई टेस्टिंग में 21 नए कोराेना के मामले दर्ज किए गए वहीं प्रदेश में अब तक 07 करोड़ 59 लाख 46 हजार 515 कोविड सैम्पल की जांच की जा चुकी है। अब तक 16 लाख 86 हजार 487 प्रदेश वासियों ने कोरोना संक्रमण को मात दी है।

उत्तर प्रदेश में तेजी से हो रहा टीकाकरण

24 करोड़ के आबादी वाले उत्तर प्रदेश से देश के दूसरे प्रदेश टीकाकरण में कहीं पीछे हैं। वेस्ट बंगाल, महाराष्ट्र, दिल्ली समेत अन्य प्रदेशों में जहां काम आबादी होने के बावजूद टीकाकरण धीमी गति से चल रहा कहीं उत्तर प्रदेश लगातार रिकॉर्ड बना रहा है। प्रदेश में अब तक 8 करोड़ 69 लाख टीकाकरण किया जा चुका है। वहीं वेस्ट बंगाल में अब तक चार करोड़ 72 लाख, केरल में तीन करोड़ 17 लाख,महाराष्ट्र में छह करोड़ 77 लाख, दिल्ली में एक करोड़ 50  लाख और तमिलनाडु तीन करोड़ 80 लाख ही वैक्सिनेशन किया गया है।
 
गरीब कल्‍याण मेले का आयोजन 25 सितंबर को

ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य व चिकित्सा सुविधाओं, सेवाओं के लिए योगी सरकार प्रतिबद्ध है। "मुख्यमंत्री आरोग्य मेला" ने कम समय में ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इस आरोग्य मेले से लोगों को सीधे तौर पर लाभ मिला है। एक बार फिर से 19 सितंबर से आरोग्य मेलों का आयोजन होने जा रहा है। अन्त्योदय कार्डधारक परिवार, जो प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना और मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में से किसी भी योजना से लाभान्वित नहीं हैं, उनको मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में शामिल करने का निर्णय लिया गया है। लगभग 40 लाख से अधिक अंत्योदय कार्डधारक परिवार इस निर्णय से सीधे लाभान्वित होंगे। प्रदेश में 25 सितंबर को गरीब कल्‍याण मेले का आयोजन किया जाएगा। इस योजना से नए लोगों को आयुष्‍मान योजना से जोड़ा जाएगा।

0Comments