होम > विशेष खबर

मध्य प्रदेश के इंदौर का सिरपुर तालाब हुआ रामसर साइट में शामिल

मध्य प्रदेश के इंदौर का सिरपुर तालाब हुआ रामसर साइट में शामिल

देश में दस नए रामसर साइट्स को शामिल किया गया है जिनमे इंदौर का सिरपुर तालाब भी है, सिरपुर तालाब इंदौर को एक विशेष पहचान दिलाता है, यहाँ पर विभिन्न देशों से प्रवासी पक्षी आते हैं, सिरपुर तालाब मध्य प्रदेश की तीसरी वेटलेंड साईट है।

सिरपुर तालाब को रामसर साईट का दर्जा मिलने के बाद इसे अंतररष्ट्रीय पहचान मिल सकेगी तथा देश विदेश से प्रकृति प्रेमी यहाँ की प्राकृतिक सुंदरता तथा पक्षियों को देखने के लिए आ सकेंगे तथा संस्थान की वेबसाइट पर इसका डाटा उपलब्ध रहेगा, नगर निगम को इसकी देखभाल के लिए आर्थिक सहायता भी मिल सकेगी, स्थानीय प्रशासन को भी कुछ काम करने होंगे जैसे तालाब के किनारे से अतिक्रमण को हटाना होगा तथा तालाब के किनारे वृक्षारोपण करना होगा जिससे पक्षियों को पर्याप्त वातावरण मिल सके, यह तालाब लगभग 500 हेक्टेयर में है।

देश में नए दस रामसर साइट्स घोषित होने पर प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर लिखा कि हर पर्यावरण प्रेमी को खुशी होगी कि भारत में 10 और आर्द्रभूमि को रामसर स्थलों के रूप में नामित किया गया है, पिछले महीने, 5 साइटों ने समान मान्यता प्राप्त की, यह हमारे प्राकृतिक परिवेश की रक्षा के लिए हमारी प्रतिबद्धता को गहरा करेगा, तथा मध्य प्रदेश के मुख्य मंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सिरपुर तालाब को रामसर साईट होने पर ख़ुशी जाहिर करते हुए लिखा कि इंदौर के सिरपुर तालाब को रामसर साइट का दर्जा मिलने पर सभी को बहुत-बहुत शुभकामनाएं, मां अहिल्याबाई की पवित्र नगरी इंदौर के मुकुट में एक और सुंदर रत्न है, अनूठी संस्कृति, विकास एवं स्वच्छता के आयामों में प्रकृति के संरक्षण का भी एक सुंदर अध्याय जुड़ गया है।