होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

ताश के पत्तों की तरह ढहा पांच मंजिला अपार्टमेंट, अभी भी लोग के फंसे होने की उम्मीद - बड़ा update

ताश के पत्तों की तरह ढहा पांच मंजिला अपार्टमेंट, अभी भी लोग के फंसे होने की उम्मीद - बड़ा update

कल बीते शाम मंगलवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के हजरतगंज इलाके से एक बड़े हादसे की खबर सामने आ रही हैं, घटना में लखनऊ के हजरतगंज इलाके के वजीर हसन रोड में  स्थित एक पांच मंजिला इमारत गिर गयी हैं,  इस बिल्डिंग का नाम अलाया अपार्टमेंट बताया जा राह हैं जो काफी  पुराना भवन हैं। 

इस घटना में काफी लोग ईमारत के नीचे मलवे में दब गए थे, घटना के बाद 30 से 35 लोगों के दबे होने की आशंका जताई गयी थी,  जिसके बाद राहत और बचाव कार्य शुरू किया गया बुधवार की सुबह तक 14 लोगो को सुरक्षित इमारत से बाहर निकाल लिया गया हैं, इसमें दो महिलाओं को काफी मशक्कत के बाद बाहर निकाला जा सका हैं। घटना की स्थिति के नियंत्रण के लिए सुबह से ही एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की नई टीमों ने अपना मोर्चा संभाल लिया हैं। अभी भी कुछ लोगो के अंदर फसे होने की उम्मीद जताई जा रही हैं।  
 
उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम बृजेश पाठक भी घटना स्थल पर पहुंच गए थे उस समय तक इमारत से 11 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया था डिप्टी सीएम बृजेश पाठक ने घटना के बारे में बात करते हुए बताया की कि फिलहाल अभी तक कोई हताहत नहीं हुआ है, इमारत अचानक से भरभराकर गिर गई थी। मौके पर NDRF, पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीमें हैं। हम कोशिश कर रहे हैं कि लोगों को सुरक्षित बचा लिया जाए। 

इस घटना पर सीएम योगी ने भी संज्ञान लिया हैं उन्होंने अफसरों को बचाव कार्य में किसी भी तरह की लापरवाही न हो ऐसी हिदायत दी हैं। साथ ही जिला प्रशासन के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि घायलों को बेहतर इलाज के इंतजाम किए जाएं उन्होंने ही मौके पर NDRF और SDRF की टीमें भेजने के निर्देश दिए हैं, और  कई अस्पतालों को अलर्ट मोड पर रहने के निर्देश भी दिए हैं। 

हादसे की वजह भूकंप को बताया जा रहा हैं। दरअसल, कल के दिन नेपाल से लेकर भारत के कई राज्यों में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे, इस प्राकृतिक आपदा के कुछ घंटे बाद ही लखनऊ में ये भीषण हादसा घटित हुआ। 

पुलिस के उच्चाधिकारियों की जानकारी के अनुसार इस अपार्टमेंट में सपा के पूर्व मंत्री शाहिद मंजूर के बेटे व भतीजे की हिस्सेदारी है जिसके बाद मेरठ पुलिस ने उनसे तत्काल संपर्क किया हैं, पुलिस मुखिया के आदेश पर पूर्व मंत्री के बेटे को मेरठ पुलिस ने हिरासत में ले लिया। उससे पूछताछ की जा रही है इस अपार्टमेंट को बनाने का काम बदनाम बिल्डर याजदान को दिया गया हैं। इसका एग्रीमेंट पूर्व मंत्री के बेटे व भतीजे ने बिल्डर फहद यजदानी से किया था। इसके बाद दोनों में फ्लैट बांटे गए थे।

सपा नेता के परिजन भी दबे 

ईमारत के मलबे में दबने वाले लोगों में महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग भी हैं। इसमें कुछ परिवार राजनैतिक दलों के वरिष्ठ नेताओं से भी जुड़े हुए हैं। सपा प्रवक्ता हैदर अब्बास की मां बेगम आमिर हैदर और पत्नी उजमा भी इस मलबे में दबे हुए हैं। उनके पिता आमिर हैदर व बेटा मुस्तफा को सुरक्षित निकाल लिया गया। वह खुद अपने परिवार को बचाने की गुहार अधिकारियों से लगाते हुए बाहर मौजूद हैं, अभी भी हादसे में  5 से 6 लोग के फंसे होने की उम्मीद जताई जा रही है।  

अभी रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है, जिन लोगो को अस्पतालों में भर्ती कराया गया था उनकी भी हालत स्थिर बताई जा रही है। आगे की जानकारी के लिए बने रहे medhaj  न्यूज़ पर....... msn