होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

जल निगम द्वारा खोदी गयी सड़कों की शीघ्र मरम्मत न होने पर होगी सख्त कार्यवाही : ऊर्जा मंत्री ए0के0 शर्मा

जल निगम द्वारा खोदी गयी सड़कों की शीघ्र मरम्मत न होने पर होगी सख्त कार्यवाही : ऊर्जा मंत्री ए0के0 शर्मा

उत्तर प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री ए0के0 शर्मा ने कहा कि किसी भी राज्य के शहर मुखौटा होते हैं। शहरों की सुन्दरता और व्यवस्थित व सुगम जीवनशैली को देखकर ही बाहरी व्यक्ति आकर्षित होता है और वैसी ही धारणा बनाता है। उन्होंने कहा कि शहरों की साफ-सफाई एवं सौन्दर्यीकरण का कार्य विगत 5-6 महीनों से लगातार चल रहा है। सभी के सहयोग से इसके बेहतर परिणाम भी आये हुए हैं, लेकिन अभी भी बहुत कुछ करना बाकी है। मैन और मशीन का समुचित प्रयोग कर सफाई को एक स्थायी रूप देना है, जिससे नगरीय जीवन में सुखद परिवर्तन आ सके।

नगर विकास मंत्री  ए0के0 शर्मा कल अपरान्ह 2ः30 बजे जल निगम के फील्ड हॉस्टल ‘‘संगम’’ में 01 दिसम्बर को प्रदेश के सभी निकायों में कूड़ा स्थलों व गंदगी को साफ करने में चलाये गये ‘‘प्रतिबद्ध: 75 घंटे, 75 जिले, 750 निकाय’’ अभियान की सफलता तथा कूड़ा स्थलों को साफ कर सुन्दरीकरण करने के लिए 05 दिसम्बर से चलाये गये ‘‘नगर सुशोभन अभियान’’ निकाय अधिकारियों के साथ वर्चुअल समीक्षा की। उन्होंने 75 घंटे सफाई अभियान की सफलता पर सभी को हार्दिक शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि इस दौरान प्रदेश के सभी 750 निकायों में 3100 कूड़ा स्थलों को चिन्हित कर पूरी तरह से साफ किया गया है। इस अभियान से 1710621 केजी गीला कूड़ा, 2190081 केजी सूखा कूड़ा तथा 1453949 केजी सी एण्ड डी वेस्ट को अलग कर वैज्ञानिक रूप से निस्तारित किया गया। इस दौरान सफाई अभियान में छोटे-बड़े 5903 वाहन तथा 29970 मैनपावर का उपयोग किया गया। यहां पर निरन्तर साफ-सफाई बनाये रखने के लिए सुन्दरीकरण का कार्य कराया जा रहा है।

मंत्री ए0के0 शर्मा ने बताया कि 75 घंटे के सफाई अभियान में 829603 लोगों ने अपनी जन-भागीदारी दी। इसमें 28309 स्वच्छ वातावरण प्रोत्साहन समिति के सदस्य, 42163 विद्यार्थी, 2110 एनसीसी के सदस्य, 1329 एनजीओ के सदस्य, 11246 सीएसओ के सदस्य, 2916 मीडिया पार्टनर एवं 15124 जन-प्रतिनिधियों ने मिलकर इस अभियान को ऐतिहासिक सफलता प्रदान की। इसी प्रकार स्वच्छ भारत मिशन के तहत रुळटच्थ्त्म्म्न्च् के  अन्तर्गत सोशल मीडिया के माध्यम से 08 लाख से अधिक इस प्रकार कुल 16 लाख से अधिक लोगों द्वारा सफाई अभियान में प्रतिभाग किया गया।

नगर विकास मंत्री ने निर्देशित किया कि जल निगम द्वारा खोदी गयी शहरों की सभी सड़कों को 12 दिसम्बर से पहले पूरी तरह से सही करना होगा, जिससे कि लोगों को आने-जाने में किसी भी तरह की परेशानी न हो। इस कार्य में देरी पर सम्बंधित के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि सभी शहरों के चौराहों का सुन्दरीकरण कराया जाय। जेब्रा क्रासिंग एवं डिवाइडर की पेंटिंग करायी जाय। चौराहों से अवैध होर्डिंग एवं पोस्टर-बैनर शीघ्र हटाई जाय। उन्होंने कहा कि शहरों की साफ-सफाई एवं स्वच्छता का अभियान निरंतर चलता रहे और एक भी कूड़ा स्थल न दिखेे। साफ किये गये कूड़ा स्थलों के कुछ स्थानों पर शाम के समय संगीत एवं बैण्ड पार्टी का भी आयोजन किया जाय। निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि कुशीनगर के हाटा में आज शाम ही ऐसे स्थान पर बैण्ड/संगीत कार्यक्रम किया जाय। उन्होंने कहा कि विदेशों में भी ऐसी परम्परा है। शाम को स्थानीय बैण्ड एवं संगीत बजाने वाले इस प्रकार के कार्यक्रम 2-3 घंटे का करते हैं।
 
मंत्री ए0के0 शर्मा ने कहा कि अब किसी के घर का पता कूड़ा स्थल के बगल वाले के रूप में न हो, बल्कि साफ-सुथरे जगह के रूप में चिन्हित हो, इसके प्रयास हों। उन्होंने सफाई अभियान में आम आदमी की भागीदारी भी सुनिश्चिित करने तथा उन्हें अभियान का अम्बेस्डर बनाने को भी कहा। उन्होंने कहा कि लोगों की प्रतिक्रिया आ रही है कि कूड़ा स्थलों एवं गंदगी के हटने से लोगों के जीवन में , वहां की जमीन एवं फ्लैट की कीमतों में बढ़ोत्तरी हुई है। सभी कूड़ा स्थलों को डस्टफ्री बनाने के लिए घास लगायी जाय तथा वेन्डर जोन भी बनाए जाएं। जहां पर आवश्यक हो, लोगों के लिए सेल्फी प्वाइंट एवं गरीबों की सहायता के लिए नेकी की दीवार भी बनायी जाय। कार्य ऐसे किये जाएं जो जमीन से जुड़े हुए हों और दीर्घकालीक बनकर वहां की परम्परा का रूप ले सकें। उन्होंने कहा कि कूड़ा स्थलों का लोग दूसरे रूप में प्रयोग न करने लग जाएं, इसका भी ख्याल रखें। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि सभी निकाय अधिकारी अपने द्वारा किये गये डॉक्यूमेंटेंशन जरूर कराएं और कार्यों की फोटो गैलरी भी बनाएं।

बैठक में निदेशक नेहा शर्मा, निदेशक सूडा यशु रस्तोगी, अपर निदेशक डॉ0 अन्सारी आदि मौजूद थे। एवं सभी निकाय अधिकारी वर्चुअली जुड़ी थे।