होम > राज्य > बिहार

नालंदा मेडिकल कॉलेज में फूटा कोरोना बम, 72 डॉक्टर संक्रमित

नालंदा मेडिकल कॉलेज में फूटा कोरोना बम, 72 डॉक्टर संक्रमित

पटना| पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में एक बार फिर से कोरोना के कई मामले सामने आए है। यहां कम से कम 72 और डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। 


सोमवार रात को ताजा संक्रमण का पता चलने के साथ, पिछले तीन दिनों में कुल 168 डॉक्टरों और पीजी मेडिकल छात्र कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। एनएमसीएच के 153 डॉक्टरों के सैंपल लिए गए, जिनमें से 72 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।


1 जनवरी को 69 डॉक्टरों का आरटी-पीसीआर परीक्षण किया गया था, जिनमें से 20 पॉजिटिव पाए गए थे। 2 जनवरी, 194 को मेडिकल छात्रों और जूनियर डॉक्टरों ने आरटी-पीसीआर टेस्ट किया गया था, जिनमें से 84 संक्रमित पाए गए थे।


एनएमसीएच के चिकित्सा अधीक्षक विनोद प्रसाद ने कहा, "सभी संक्रमित चिकित्सा कर्मचारियों और छात्रों को आइसोलेशन वार्ड में स्थानांतरित कर दिया गया है। वे निगरानी में हैं और उनका स्वास्थ्य सामान्य है।"


इस बीच, बिहार ने मंगलवार को 344 नए मामले दर्ज किए, जिनमें तख्त श्री हरिमंदिर साहिब परिसर से 23, पटना एम्स के चार डॉक्टर और पटना के रूपसपुर में एक ही परिवार के चार लोग शामिल हैं।


पटना में मंगलवार सुबह कुल 160 मामले सामने आए।


इस बीच, गया में 88 मामले दर्ज किए गए, मुजफ्फरपुर 11, मुंगेर में नौ, बेगूसराय, दरभंगा और भागलपुर में सात-सात, लखीसराय, सहरसा पांच-पांच, जहानाबाद और पश्चिम चंपारण में चार-चार, अररिया, नवादा, मधेपुरा, सीवान में तीन-तीन, औरंगाबाद, गोपालगंज, खगड़िया, नालंदा, वैशाली, समस्तीपुर में दो-दो, पूर्वी चंपारण, बांका, किशनगंज, मधुबनी, रोहतास, सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल और शेखपुरा एक-एक कोरोना पॉजिटिव पाए गए, जबकि यहां पॉजिटिव पाए गए चार लोग दूसरे राज्यों से आए थे।